वैक्सीनेशन को चैलेंस के रूप में लेकर करें टीकाकरण : डीएम

कोर कमेटी की बैठक में डीएम ने अधिकारियों को दिये निर्देश
शिवम अग्निहोत्री
ललितपुर। जिलाधिकारी अन्नावि दिनेशकुमार की अध्यक्षता में कोविड-19 कोर कमेटी की बैठक कलेक्ट्रेट पार्क में आयोजित की गई। बैठक में सर्वप्रथम विगत 24 घंटे के कोविड परिणामों पर चर्चा हुई। बैठक के दौरान अवगत कराया कि जिलाधिकारी के पत्राचार करने के उपरांत मेडिकल कॉलेज मैं जनपद के मरीजों को भर्ती करने के संबंध में मंडलायुक्त झांसी मंडल, झांसी एवं शासन द्वारा मेडिकल कॉलेज झांसी के प्रिंसिपल को निर्देशित किया गया है कि जनपद ललितपुर के मरीजों को भर्ती करने में किसी प्रकार की रुकावट ना हो। मौके पर जिलाधिकारी ने अपर जिला अधिकारी को निर्देशित किया कि कंटेनमेंट जोन एवं हॉटस्पॉट एरिया में आवश्यक वस्तुओं के लिए डोर स्टेप डिलीवरी की व्यवस्था सुनिश्चित कराएं, साथ ही इसके लिए पास जारी करने की भी व्यवस्था की जाए। वैक्सीनेशन की समीक्षा के दौरान बताया गया कि ग्रामीण क्षेत्रों में लोग वैक्सीनेशन में रुचि नहीं दिखा रहे हैं, बल्कि वैक्सीनेशन टीम का प्रतिरोध भी कर रहे हैं इस पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि इस स्थिति को एक चैलेंज के रूप में लेते हुए टीकाकरण कराना सुनिश्चित करें। सैंपलिंग की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि प्रत्येक जांच चाहे वह एंटीजन हो या आरटीपीसीआर उसकी फीडिंग ग्राम सभावार कराई जाए। कांटेक्ट ट्रेसिंग की समीक्षा के दौरान बताया गया है कि जनपद में कुल 948 लोगों की कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग की गई है। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिये कि एंबुलेंस में इमरजेंसी मेडिकल टेक्नीशियन अनिवार्य रूप से तैनात हो, एंबुलेंस में ऑक्सीजन के साथ आवश्यक दवाएं, एम्बुबैग तथा अन्य आवश्यक इंजेक्शन की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। कोविड अस्पतालों की समीक्षा के दौरान बताया गया कि एल-1 हॉस्पिटल में 25 तथा एल-2 में 35 मरीज भर्ती हैं, इस पर एल-1 व एल-2 अस्पतालों में सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त रखने के साथ-साथ मरीजों की समस्याओं के तत्काल निस्तारण के निर्देश दिए गए। इसी दौरान मुख्य विकास अधिकारी ने अवगत कराया कि जिला अस्पताल के आईसीयू में 2 मरीज वेंटिलेटर पर भर्ती हैं। महिला चिकित्सालय के फीमेल सर्जिकल वार्ड में 25 बेड खाली है, जिस पर जिलाधिकारी ने कहा कि वहां ऑक्सीजन की सुविधा उपलब्ध कराकर जनरल वार्ड के रूप में उपयोग किया जाए। कण्टेन्मेंट जोन एवं सैनेटाइजेशन की समीक्षा के दौरान बताया कि ग्राम सुनौरी एवं सुनौरा में अधिक मात्रा में पॉजिटिव मरीज पाए जाने के कारण वहां हॉटस्पॉट घोषित किया गया है, इस पर जिलाधिकारी ने सम्बन्धित उप जिला अधिकारी एवं जिला पंचायत राज अधिकारी को ग्राम के सभी मार्गों पर बैरिकेड लगाकर प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश दिए गए। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार पांडेय, अपर जिलाधिकारी वि./रा. अनिल कुमार मिश्र, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.डी.के.गर्ग, परियोजना निदेशक बलिराम वर्मा, अपर पुलिस अधीक्षक, उपजिलाधिकारी संजय पांडेय, उपजिलाधिकारी तालबेहट अनिल कुमार, डीसी मनरेगा रविंद्रवीर यादव, जिला पंचायत राज अधिकारी अवधेश कुमार, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी दिलीप कुमार सहित सम्बन्धित अधिकारी एवं चिकित्सा विभाग के अन्य चिकित्सक उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?