डुप्लीकेट फेसबुक आईडी बनाकर हो रही है ठगी, कैसे बचे?

ललितपुर। कुछ दिनों से ऐसे मामले सामने आ रहे हैं, जिनमें डुप्लीकेट फेसबुक आईडी बनाकर मित्रों को द्वारा फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर रुपयों की मांग की जा रही है। अधिवक्ता संवाद के संयोजक पुष्पेंद्र सिंह चौहान बताते हैं कि आज कल कई लोग इसका शिकार हो रहे हैं। अगर आपकी तस्वीर का इस्तेमाल कर कोई नकली आईडी बना लेता है तो आपको सबसे पहले उस प्रोफाइल को बंद करवाना होगा। सोशल मीडिया आज हमारी जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन चुका है। फेसबुक के जरिए हम अपने दोस्तों रिश्तेदारों आदि से जुड़े रहते हैं। फेसबुक हमें लोगों के करीब लाने में मदद करता है। लेकिन आपके फेसबुक खातों पर साइबर ठगों की भी नजर रहती है। साइबर ठग नए-नए तरीकों से लोगों को ठगी का शिकार बनाते हैं। क्या आपको पता है ठग आपकी प्रोफाइल फोटो का इस्तेमाल कर डुप्लीकेट प्रोफाइल बनाकर आपकी फ्रेंड लिस्ट में शामिल लोगों से ठगी कर सकते हैं।कई ऐसे मामले सामने आए हैं जिसमें किसी शख्स की प्रोफाइल फोटो का इस्तेमाल कर लोगों से ठगी को अंजाम दिया गया है। साइबर्ट्रक पहले किसी लडक़ी के नाम से फेसबुक आईडी बनाकर रिक्वेस्ट भेजते हैं जब कोई व्यक्ति उनकी रिक्वेस्ट को एक्सेप्ट कर लेता है सबवे बड़ी आसानी से उस व्यक्ति के फेसबुक अकाउंट से महत्वपूर्ण जानकारियां निकालकर डुप्लीकेट प्रोफाइल बनाते है और उस शख्स के फ्रेंड्स को मैसेज भेजकर मजबूरी का बहाना बनाकर पैसों की मांग करते हैं। जब यूजर ऐसे मैसेज के झांसे में आकर हामी भर देता है तो अकाउंट नंबर भेजकर पैसे ट्रांसफर करवा लिए जाते हैं।अगर आपकी तस्वीर का इस्तेमाल कर कोई नकली आईडी बना ले तो आपको सबसे पहले उस प्रोफाइल को बंद करवाना होगा इसके लिए आप ज्यादा से ज्यादा लोगों को आईडी का लिंक भेजकर रिपोर्ट स्पैम करने के लिए कह सकते हैं। फेसबुक के मुताबिक अगर कभी किसी शख्स की तस्वीर का इस्तेमाल कर कोई नकली प्रोफाइल बना ले तो इसे बंद करने के लिए ज्यादा से ज्यादा लोग अगर रिपोर्ट स्पैम करेंगे तो ऐसी प्रोफाइल को हमेशा के लिए बंद कर दिया जाता है।इसके लिए आपको फेसबुक की सेटिंग में ही ‘रिपोर्ट द प्रोफाइल’ का विकल्प मिल जाएगा। इस विकल्प में आपको आप अकाउंट की रिपोर्ट क्यों कर रहे हैं इसकी वजह बताने होगी। इसके बाद फेसबुक आपके दावे की अपने स्तर पर तहकीकात करेगा और अगर आपके दावे को सही पाया गया तो फर्जी अकाउंट बंद कर दिया जाएगा और आप अपने पास के साइबर थाने में भी इस तरह की ठगी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा