संक्रमित मरीजों का किया गया फेसेलिटी एलोकेशन

कोर कमेटी की बैठक में अधिकारियों को डीएम ने किया निर्देशित
ललितपुर। जिलाधिकारी अन्नावि दिनेशकुमार की अध्यक्षता में कोविड 19 कोर कमेटी की बैठक कलेक्ट्रेट पार्क में आयोजित की गई। बैठक में सर्वप्रथम विगत 24 घंटे के कोविड परिणामों पर चर्चा हुई। इसके उपरांत वैक्सीनेशन की समीक्षा की गई जिसमे जिलाधिकारी ने जोनल मजिस्ट्रेटो को निर्देशित करते हुए कहा कि सभी जोनल मजिस्ट्रेट रुचि के साथ कार्य करें, जोन को ग्राम पंचायत वार विभाजित करें तथा ध्यान रखें कि जोन में ग्राम पंचायतों की संख्या लगभग बराबर हो। इसी दौरान बताया गया कि जिला चिकित्सालय ललितपुर में 28, महिला चिकित्सालय ललितपुर में 40, बिरधा में 86, तालबेहट में 10, बार में 10, मडावरा में 70, महरौनी में 18, विकास भवन में 19 एवं सूचना विभाग में 06 वैक्सीन लगाई गई हैं। टीकाकरण की संख्या कम होने का जिलाधिकारी महोदय ने नाराजगी जाहिर करते हुए निर्देश दिए कि जोनल मजिस्ट्रेट प्रत्येक दिन फील्ड में जाएं और सेक्टर मजिस्ट्रेट पर नियंत्रण रखें। उन्होंने कहा कि सबसे पहले सेक्टर मजिस्ट्रेट अपने यहां मीटिंग करें और आशा एवं एएनएम की ठीक से ट्रेनिंग कराई जाए। टीकाकरण के संबंध में यह भी बताया गया कि 01 जून 2021 से जनपद में 18 से 44 वर्ष के नागरिकों का कोविड टीकाकरण अभियान संचालित किया जा रहा है। इस हेतु जनपद में उक्त आयु वर्ग हेतु प्रतिदिन जनपद न्यायालय, सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग कार्यालय एवं विकास भवन में टीकाकरण बूथ बनाये गए हैं, जिनमे प्रतिदिन सुबह 11 बजे से टीकाकरण प्रारम्भ हो जाता है। इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि सभी को यह बताना आवश्यक है कि जनपद में समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों एवं कॉमन सर्विस सेंटरों पर टीकाकरण हेतु रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है। बैठक में सर्विलांस कार्य की समीक्षा में जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि घर-घर जाकर सर्दी, खांसी एवं बुखार के मरीजों की सूची तैयार करें, उन्हें तत्काल दवाई की किट उपलब्ध कराते हुए एंटीजन टेस्ट कराएं। टेस्ट में नेगेटिव आने के बाद लक्षण दिखते हैं तो उनका आरटीपीसीआर सैंपल लिया जाए। उन्होंने निगरानी समितियों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि ग्रामीण क्षेत्रों में संदिग्ध मरीजों की निगरानी करें। इसके साथ ही लोगों को टीकाकरण के प्रति प्रोत्साहित करें। कोविड अस्पतालों की समीक्षा में बताया गया कि अस्पतालों में मरीजों को नियमित रूप से मोनिटर किया जा रहा है, उन्हें समय पर भोजन, पानी व दवाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। फेसेलिटी एलोकेशन की समीक्षा में बताया गया कि आज 19 संक्रमित मरीज पाए गए मरीजों का फेसेलिटी एलोकेशन किया गया है। सफाई एवं सैनेटाइजेशन की समीक्षा में बताया गया कि जनपद में शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष सफाई अभियान चलाया जा रहा है तथा नियमित रूप से ब्लीचिंग एवं चूने के पाउडर का छिडक़ाव एवं फॉगिंग का कार्य कराया जा रहा है। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार पांडेय, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व अनिल कुमार मिश्र, अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे लवकुश त्रिपाठी, अपर जिलाधिकारी न्यायिक रजनीश राय, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ डी0के0गर्ग, प्रभागीय निदेशक सामाजिक वानिकी डी एन सिंह, स्रष् मनरेगा रविंद्रवीर यादव, उप निदेशक कृषि सन्तोष कुमार सविता, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका निहाल चंद्र, जिला पंचायत राज अधिकारी अवधेश कुमार, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी दिलीप कुमार, डॉ जे0एस0 बक्सी सहित सम्बन्धित अधिकारी एवं चिकित्सा विभाग के अन्य चिकित्सक उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या