कोरोना से प्रभावित बच्चों व महिलाओं के प्रकरणों की निगरानी

जिला स्तर पर गठित टास्क फोर्स की प्रथम बैठक हुयी संपन्न
ललितपुर। कोविड-19 से प्रभावित बच्चो तथा महिलाओ के प्रकरणों में निगरानी व आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने हेतु जनपद स्तर पर गठित टास्क फोर्स की प्रथम बैठक जिलाधिकारी सभागार में सम्पन्न की गयी। जिलाधिकारी के आदेशानुसार प्रमुख सचिव, महिला एवं बाल विकास अनुभाग-1 के शासनादेश के क्रम में कोविड-19 से प्रभावित बच्चो तथा महिलाओ के प्रकरणों में निगरानी व आवष्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने हेतु जनपद स्तर पर टास्क फोर्स की प्रथम बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गयी, जिसमें प्रभारी जिला प्रोबेशन अधिकारी ने कोविड-19 महामारी के दौरान परित्यक्त, अनाथ, परिवार से बिछुडे या किसी भी प्रकार से परिवार विहीन अथवा देखरेख व संरक्षण की स्थिति में आने वाले बच्चो के बारे में (शहरी व ग्रामीण क्षेत्र हेतु) प्राप्त सूचना के बारे में जानकारी दी गयी साथ ही सूचना प्राप्त करने हेतु चिकित्सा विभाग, पुलिस विभाग, बाल विकास एवं पुश्टाहार विभाग व चाइल्ड लाईन से नोडल अधिकारी वनाये जाने हेतु कहा गया। साथ ही प्रभारी जिला प्रोबेशन अधिकारी द्वारा वताया गया कि महामारी के दौरान परिव्यक्त, अनाथ, परिवार से बिछुडे या किसी भी प्रकार से परिवार विहीन अथवा देखरेख व संरक्षण की स्थिति में आने वाले बच्चो की सूचना के साथ ही अवैध रूप से बच्चो को गोद लेने/देने या महिलाओं की तस्करी संबंधी पेषकष करने सम्बन्धित सूचना तत्काल जिला प्रोबेशन कार्यालय, 1098-चाइल्ड लाईन अथवा नजदीकी थाने में तैनात पुलिस बाल कल्याण अधिकारी को उपलब्ध कराये, जिससे बच्चो की सुरक्षा, स्वास्थ्य एवं भरण पोषण हेतु आवष्यक कार्यवाही की जा सके। मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार पाण्डेय द्वारा चिकित्सा विभाग, पुलिस विभाग, बाल विकास एवं पुश्टाहार विभाग व चाइल्ड लाईन को जनपद में कोविड-19 महामारी के दौरान परित्यक्त, अनाथ, परिवार से बिछुडे या किसी भी प्रकार से परिवार विहीन अथवा देखरेख व संरक्षण की स्थिति में आने वाले बच्चो के बारे में प्रतिदिन सूचना एकत्र कर जिला प्रोबेशन अधिकारी को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये। इसके साथ ही मुख्य विकास अधिकारी द्वारा डिजिटल प्लेटफाम मीडिया, सोशल मीडिया, न्यूज चैनल, अखबारों सहित अन्य माध्यमों से प्रसारित होने वाले ऐसे सभी समाचार, संदेशों जिनमें कोई भी व्यक्ति अवैध रूप से बच्चो को गोद लेने/देने या महिलाओं की तस्करी पर निगरानी रखने व इससे सम्बन्धित सूचना पर तत्काल कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिये गये। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार पाण्डेय, अपर जिलाधिकारी अनिल कुमार मिश्र, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा.जे.एस.बख्शी, प्रभारी जिला प्रोबेशन अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी पुष्पा वर्मा, बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष कैलाश अग्रवाल, सदस्य राजाराम खटीक, तथा चाइल्ड लाइन निदेशक दीपाली पटैरिया आदि उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

होमियोपैथी कोरोना के नए वैरीअंट के खिलाफ महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है-डॉ एम डी सिंह