पोस्ट कोविड की समस्याओं का निदान यूनानी, आयुर्वेदिक व होम्योपैथी चिकित्सको द्वारा

लखनऊ, दिनांक 21 मई, 2021 कोविड से स्वास्थ्य होने वाले लोगो अर्थात पोस्ट कोविड लोगो को उनके स्वास्थ्य सम्बंधित समस्याओ आदि का निस्तारण सुनिश्चित कराने के उद्देश्य से नोडल अधिकारी कोविड-19 लखनऊ डाॅ0 रोशन जैकब द्वारा यूनानी, आयुर्वेदिक व होम्योपैथिक चिकित्सको के साथ एक बैठक आहूत की गई। बैठक में नोडल अधिकारी द्वारा चिकित्सको के साथ विचार विमर्श किया गया। चिकित्सको द्वारा बताया गया कि कोविड से स्वस्थ्य होने के बाद भी लोगो मे कुछ स्वास्थ्य सम्बंधित समस्याए रहती है। जिनका निदान यूनानी, आयुर्वेदिक व होम्योपैथिक दवाओं के द्वारा किया जा सकता है। यूनानी, आयुर्वेदिक व होम्योपैथी चिकित्सको द्वारा दवाओं के बारे में भी जानकारी दी गई जिसका प्रयोग करते हुए पोस्ट कोविड की समस्याओं का निदान किया जा सकता है। कोविड-19 में एवं उसके उपरान्त निम्नलिखित यूनानी दवाओं का सेवन करें। 1- हब्बे जीकुन नफस- दो गोली सुबह दो गोली शाम। (सांस की तकलीफ के लिए)
2- शरबत-ए-सदर-20 एम0एल0 सुबह व शाम (हल्के गरम पानी से जिनको खासी आ रही है वो ले सकते है।)
3-लऊक ख्यार शमबर- 15 ग्राम सुबह व शाम (गुनगुने पानी से लिया जा सकते, जिनको गले की खराश हो)
4- खमीरा आबेरेशम शीर उन्नाव- 05 ग्राम सुबह व शाम
(ताकत के लिए)
5- गरम पानी कि भांप सुबह व शाम लेते रहे।
होम्योपैथिक औषधियाॅ
पोस्ट कोविड-19 संक्रमण के बाद की परेशानियों में होम्योपैथिक औषधियाॅ ली जा सकती है जिसमें ब्रायोनिया अल्बा 30 और एन्टिम टार्ट 30 नित्य क्रमशः सुबह और शाम (04-04 गोली) लिया जा सकता है। साथ में फेफडों की शीध्र स्वस्थ्य करने के लिए एसपीडोस्पर्मा मदर टिन्चर (15-15 बूदॅ) आधा कप पानी के साथ दिन में तीन बार लिया जा सकता है।
3) कोविड से निग्रटिव हुए रोगियों के लिये आयुर्वेदिक औषधि-
1- गिलोय घनवटी-  2-2 गोंली सुबह-शाम
2- आयुष 64-      1-1 गोली गोली सुबह -शाम
3- अशवगंधा वटी-   1-1 चम्मच सुबह-शाम
’सभी औषधियाॅ गूुनगुने पानी के साथ’
च्वनप्राश  1-1 चम्मच सुबह-शाम, 15 दिनों तक।
खासी होने पर-सितोपलादि पूर्ण 3 ग्राम दिन 2 बार शहद के साथ।
गले में खरास होने पर व्योषादि वटी, 1 से 2 गोली चूसने के लिए दिनल में 3-4 बार।
नाक बन्द होने पर-अणु तेल, 1 से 2 बूद नाक में डाले।
गरारा-1 से 2 ग्राम हल्दी/सेन्धा नमक/मुलेठी गुनगुने पानी में डालकर करें।
भाप- अजवाइन/पुदीना तेल/कपूर/फिटकरी कोई भी एक आधा चम्मच गुनगुने पानी में डाल कर भाप लें।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा