आरआरटी टीमें इफेक्टिव न होने पर नोडल अधिकारी को फटकार

सीएमओ के जरिए निर्धारित शुल्क पर होगा ऑक्सीजन सिलेण्डर रिफिल : डीएम
वैक्सीनेशन की धीमी गति पर भी डीएम ने जतायी नाराजगी
कोर कमेटी की बैठक में अधिकारियों को डीएम ने किया निर्देशित
ललितपुर। जिलाधिकारी अन्नावि दिनेशकुमार की अध्यक्षता में जनपद के कोविड-19 कोर कमेटी की बैठक कलेक्ट्रेट पार्क में आयोजित की गई। बैठक में सर्वप्रथम विगत 24 घंटे के कोविड परिणामों पर चर्चा हुई। रैपिड रिस्पांस टीमों की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में आरआरटी टीमें इफेक्टिव नहीं है, जिस पर उन्होंने नोडल अधिकारी को फटकार लगाते हुए टीमों को क्रियाशील करने के निर्देश दिए। कोविड वैक्सीनेशन के कार्य की धीमी प्रगति पर जिलाधिकारी ने नाराजगी जाहिर करते हुए कार्य में सुधार लाने के निर्देश दिए। कोविड अस्पतालों की समीक्षा के दौरान बताया गया कि एल-1 एवं एल-2 में ऐसे 33 मरीज भर्ती हैं जिन की गहन निगरानी की जा रही है जिस पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि मरीजों के स्वास्थ्य में सुधार की प्रतिदिन रिपोर्ट उपलब्ध कराएं साथ ही होम आइसोलेशन के मरीजों से निरंतर संपर्क में रहे। उक्त के अतिरिक्त जिलाधिकारी ने सर्विलांस टीमों को एक्टिव करने के साथ-साथ मतगणना स्थल पर प्रत्याशियों एवं उनके एजेंटों की थर्मल सकैनिंग करने के भी निर्देश दिए। इसके अलावा उन्होंने मुख्य रूप यह भी कहा कि जनपद में जिन लोगों के पास ऑक्सीजन के खाली सिलेंडर उपलब्ध हैं, वे मुख्य चिकित्साधिकारी से सम्पर्क कर निर्धारित शुल्क पर सिलेंडर रिफिल करा सकते हैं। सेनेटाइजेशन एवं कंटेन्मेंट जोन की समीक्षा में जिलाधिकारी ने कहा कि मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि कोरोना कफ्र्यू के दौरान जनपद के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में सघन सफाई, सैनेटाइजेशन व फॉगिंग अभियान चलाया जाए, जिससे कोरोना संक्रमण की चेन टूट सके, इस कार्य मे किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए, इसके साथ ही अभियान से सम्बंधित फोटो भी उपलब्ध कराएं। बैठक में पुलिस अधीक्षक प्रमोद कुमार, सीडीओ अनिल कुमार पांडे, एडीएम वि./रा.अनिल कुमार मिश्र, सीएमओ डा.डी.के.गर्ग, सीएमएस डा.हरेंद्र सिंह चौहान, क्षय रोग अधिकारी डा.जे.एस.बक्शी, ईओ नगर पालिका, डा.मुकेश दुबे सहित सम्बन्धित अधिकारी एवं चिकित्सा विभाग के अन्य चिकित्सक उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या