ऑक्सीजन बैंक को मिले पन्द्रह ऑक्सीजन कंसंट्रेटर

शिवम अग्निहोत्री
ललितपुर। कोरोना संक्रमण से जूझ रहे लोगों को ऑक्सीजन की कमी न हो इसके लिए झांसी में रहने वाले अजय साहू व उनकी पत्नी कामिनी ने अन्नपूर्णा ऑक्सीजन बैंक व केयर सेंटर के लिए ढ़ाई लाख कीमत के पांच ऑक्सीजन कंसंट्रेटर प्रदान किये हैं। साथ में झांसी के एक गुप्त दाता परिवार द्वारा 10 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर लगभग 5 लाख की कीमत के प्रदान किए गए हैं। कुल मिलाकर लगभग साढ़े सात लाख की कीमत के 15 कंसेंट्रेटर अन्नपूर्णा ऑक्सीजन बैंक एवं केयर सेंटर के लिए दोनों परिवारों द्वारा प्रदान किए गए हैं जिससे ललितपुर की जनता के लिए जो व्यक्ति कोरोना से जंग जीत चुके हैं लेकिन फेफड़ों के बुरी तरह प्रभावित होने के बाद उन्हें केवल ऑक्सीजन की आवश्यकता है और उन्हें अस्पतालों में रहकर फिर से संक्रमित होने का खतरा सदैव लगा रहता है। अन्नपूर्णा ऑक्सीजन बैंक एंड केअर सेन्टर शुरू होने के बाद उनको कोरोना मरीजों के बीच में नहीं रहना होगा। साथ में उन्हें अन्नपूर्णा सेवा संघ द्वारा निशुल्क ऑक्सीजन प्रदान की जाएगी। केयर सेंटर में उन मरीजों के रुकने की व्यवस्था की जा रही है जिनको केवल ऑक्सीजन की आवश्यकता है। कम फ्लो वाले मरीजों को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर से ऑक्सीजन दी जाएगी तथा ज्यादा फ्लोवाले मरीजों को ऑक्सीजन सिलेंडर से ऑक्सीजन दी जाएगी जिसकी ऑक्सीजन के लिए जिला प्रशासन द्वारा सहयोग दिया जा रहा है। अन्नपूर्णा केअर सेंटर में मरीजों के साथ उनके घर का एक व्यक्ति भी रुक सकता हैं, जिनके लिए संस्था द्वारा मरीजों के साथ-साथ उनके भी निशुल्क भोजन की व्यवस्था होगी। पूर्व में रवि तिवारी ने लगभग 45 लाख की सामग्री की घोषणा की थी जिसमें से 50 ऑक्सीजन सिलेंडर मुंबई में बुक हो चुके हैं और निकट भविष्य में अन्य स्थानों से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भी आ रहे हैं। जिससे अन्नपूर्णा सेवा संघ एवं केयर सेंटर की क्षमता बढ़ जाएगी और ज्यादा मरीजों को लाभ मिल सकेगा। अन्नपूर्णा भोजनशाला ने अन्य समर्थ लोगों से भी अपील की है कि इस महामारी में अपने ही जैसे अन्य व्यक्ति की मदद के लिए आगे आए।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?