“वैक्सीन आपके द्वार” योजना लागू किए जाने की उठी मांग

चुनाव के समय घर-घर जाकर पर्ची पहुंचाई जा सकती हैं, गाँव-गाँव बूथ बनाकर मतदान कराया जा सकता है, तो लोगों की जान बचाने के लिए घर-घर जाकर वैक्सीन क्यों नहीं लगाई जा सकती: विजय पाण्डेय लखनऊ, हाईकोर्ट के अधिवक्ता विजय कुमार पाण्डेय ने महिला, वृद्ध एवं बच्चों के स्वास्थ्य से जुड़ी वैश्विक संस्थाओं, भारत सरकार, उत्तर-प्रदेश सरकार एवं जनपद सुलतानपुर के जिलाधिकारी को पत्र लिखकर मांग की कि वैश्विक महामारी कोरोना से निपटने के लिए “वैक्सीन आपके द्वार” योजना अविलंब लागू की जाए क्योंकि हमारे देश में मेडिकल व्यवस्था बहुत ही सीमित है जिसके कारण लोग अपनी जान गवां रहे हैं l इस बीमारी से देशवासियों को बचाने का उपाय सिर्फ लोगों को वैक्सीन शीघ्रातिशीघ्र लगाना ही है l विजय पाण्डेय ने यह भी बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में काफी बड़ी संख्या में वृद्ध लोग वैक्सीन लगवाने से वंचित रह गए हैं, क्योंकि वे सामुदायिक केंद्र तक स्वयं जा नहीं सकते और काफी बड़ी संख्या में ऐसे वृद्ध हैं जिनके परिवार में कोई ले जाने वाला नहीं है l “वैक्सीन आपके द्वार” योजना के माध्यम से कैम्प लगाकर सभी ग्रामवासियों को कोरोना संक्रमण से बचाया जा सकेगा l चुनाव के समय घर-घर जाकर पर्ची पहुंचाई जा सकती हैं, गाँव-गाँव बूथ बनाकर मतदान कराया जा सकता है तो लोगों की जान बचाने के लिए घर-घर जाकर वैक्सीन क्यों नहीं लगाई जा सकती l उन्होंने यह भी बताया कि यदि सरकार उनकी ग्राम-सभा राईबीगो, जनपद सुल्तानपुर (उ०प्र०) में “वैक्सीन आपके द्वार” योजना लागू करके लोगों तक पहुंचना चाहते है तो उनकी नवनिर्वाचित ग्रामप्रधान श्रीमती सावित्री देवी सहित सैकड़ों युवा आगे बढ़कर आवश्यक सहयोग करने के लिए तैयार हैं l

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?