उप मुख्यमंत्री डाॅ0 दिनेश शर्मा ने केजीएमयू प्रशासन को अपने विधायक निधि से स्वास्थ्य सम्बंधित उपकरणों की खरीद हेतु 25 लाख रूपये देने की घोषणा की

लखनऊ: 03 जून, 2021 उप मुख्यमंत्री डा दिनेश शर्मा ने आज सिंधी समाज के सहयोग से 15 वाईपैप मशीन केजीएमयू अस्पताल प्रशासन को उपलब्ध कराई। डॉ दिनेश शर्मा ने इस अवसर पर अपनी विधायक निधि से केजीएमयू अस्पताल प्रशासन को कोबिड महामारी से बचाव हेतु 25 लाख रुपए दिए जाने की घोषणा भी की, जिससे कि केजीएमयू प्रशासन आवश्यक मेडिकल उपकरणों की खरीद कर सकता है। उप मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर लखनऊ लखनऊ जनपद में कोविड महामारी से बचाव हेतु विभिन्न सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के लिए अपनी विधायक निधि से एक करोड रुपये दिये जाने की घोषणा की। कोविड-19 महामारी के प्रभावी प्रबंधन हेतु मरीजों को ऑक्सीजन उपलब्ध कराए जाने तथा मरीजों को चिकित्सालय तक लाए जाने के उद्देश्य से जनपद लखनऊ के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र टुड़ियागंज लखनऊ एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ऐशबाग लखनऊ को ऑक्सीजन प्लांट हेतु 25 -25 लाख रुपए तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अलीगंज लखनऊ को एक एंबुलेंस ए०एल०एस० (समस्त साज-सज्जा एवं अत्याधुनिक जीवन रक्षक उपकरणों सहित) हेतु 27 लाख रुपए तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बीकेटी लखनऊ को एक एंबुलेंस ए०एल०एस० (सामान्य साज-सज्जा सहित ) हेतु 17 लाख रुपए ऑक्सीजन पाइप लाइन हेतु 06 लाख रुपये अपनी विधायक निधि से निर्गत किया। उपमुख्यमंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा ने इस अवसर पर कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में प्रदेश सरकार के अथक प्रयासों से प्रदेश में आज कोरोना को काफी हद तक नियंत्रित किया जा सका है और स्थिति सामान्य हो रही है। प्रदेश के स्वास्थ्य क्षेत्र में पहले के मुकाबले वर्तमान में बुनियादी सुविधाओं का तेजी से विकास किया गया है। मेडिकल कॉलेज लखनऊ ने कोरोना महामारी से लड़ाई में बहुत बड़ा योगदान दिया है। उप मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर सुझाव दिया कि डॉक्टर ऐसे वक्तव्य ना दें जिससे मरीजों में घबराहट हो, बिना पुष्टि के किसी भी ऐसे बयान से बचना चाहिए जिसे सामान्य जनमानस में घबराहट हो। उन्होंने कहा कि अस्पताल प्रशासन को कोबिड मरीजों के दैनिक स्वास्थ्य रिपोर्ट उनके परिजनों से साझा करने पर विचार करना चाहिए। डॉ शर्मा ने कहा कि सिंधी समाज इस कार्य के लिए बधाई का पात्र है। दुख दर्द में जो दूसरों के काम आता है वह ईश्वर का सबसे प्रिय होता है। सामाजिक सेवा का यह अभियान आगे भी चलते रहना चाहिए। इस अवसर पर कुलपति केजीएमयू श्री विपिन पुरी, सिंधी समाज के श्री अशोक मोतियानी, श्री श्याम कुशनानी, श्री सुरेश तेजवानी सहित अन्य सिंधी समाज के लोग उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या