परिवहन मद में 214.76करोड़ रूपये अधिक का राजस्व प्राप्त -सुरेश कुमार खन्ना

लखनऊ, दिनांकः 04 जून, 2021 उत्तर प्रदेश के वित्त, संसदीय कार्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सुरेश कुमार खन्ना ने आज यहां विधान भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि प्रदेेश में वित्तीय वर्ष 2021-22 में माह मई में मुख्य कर-करेत्तर राजस्व वाले मदों में कुल 8,272.55 करोड़ रूपये की प्राप्ति हुयी है जबकि वर्ष 2020-21 के मई माह में 5,820.04 करोड़ रूपये की प्राप्ति हुयी थी। उन्होंने बताया कि इस प्रकार माह मई 2021 में कर-करेत्तर राजस्व वाले महत्वपूर्ण मदो में वर्ष 2020 के माह मई के सापेक्ष 2,452.51 करोड़ रूपये की वृद्धि हुयी है। वित्त मंत्री ने बताया कि जी0एस0टी0 एवं वैट के अन्तर्गत वर्ष 2021-22 में माह मई में 2,771.32 करोड़ रूपये की प्राप्ति हुयी है, जबकि माह मई 2020 में 1939.52 करोड़ रूपये की प्राप्ति हुई थी। इसी प्रकार वैट के अन्तर्गत 2,286.44 करोड़ रूपये की प्राप्ति हुयी है, जो माह मई 2020 की प्राप्ति से 1,266.79 करोड़ रूपये अधिक है। श्री सुरेश खन्ना ने बताया कि आबकारी के मद में वित्तीय वर्ष 2021-22 के माह मई में 2,138.86 करोड़ रूपये की राजस्व प्राप्ति हुयी है, जबकि गत वर्ष माह मई,2020 में 2,169.25 करोड़ रूपये की प्राप्ति हुयी थी। स्टाम्प तथा निबन्धन के मद में वित्तीय वर्ष 2021-22 के माह मई में 625.03 करोड़ रूपये का राजस्व प्राप्त हुआ है, जो माह मई 2020-21 में349.52करोड़ रूपये प्राप्त हुये थे। इस प्रकार स्टाम्प एवं निबन्धन के मद में माह मई में वित्तीय वर्ष 2020-21में 275.51 करोड़ रूपये अधिक राजस्व प्राप्त हुआ है। इसी प्रकार परिवहन के मद में वित्तीय वर्ष 2021-22 के माह मई में 314.62 करोड़ रूपये का राजस्व प्राप्त हुआ है। वित्तीय वर्ष 2020-21 के इसी माह मंे परिवहन के मद में 99.86 करोड़ रूपये की प्राप्ति हुयी थी। इस प्रकार वित्तीय वर्ष 2021-22 के माह मई में वर्ष 2020-21 के सापेक्ष परिवहन मद में 214.76 करोड़ रूपये अधिक का राजस्व प्राप्त हुआ है। उन्होंने बताया कि मुख्य कर राजस्व वाले मदों में वित्तीय वर्ष 2021-22 के माह मई में 8,136.27 करोड़ रूपये की प्राप्ति हुयी है, जो इस माह के लक्ष्य का 53.00 प्रतिशत है। वित्त मंत्री ने बताया कि करेत्तर राजस्व की प्रमुख मद भू-तत्व एवं खनिकर्म में वित्तीय वर्ष 2021-22 में माह मई में 136.28 करोड़ रूपये का राजस्व प्राप्त हुआ है, जो माह मई के लक्ष्य का 40.3 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि वित्तीय वर्ष 2020-21 के माह मई में इस मद के अन्तर्गत 242.24 करोड़ रूपये का राजस्व प्राप्त हुआ था। चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने बताया कि वर्तमान में कोरोना का संक्रमण प्रदेश के मुख्यमंत्री जी के अथक प्रयासों से काफी हद तक कम हो चुका है। उन्होंने बताया कि एक्सपर्ट ऐसी आशंका व्यक्त कर रहे हैं कि सितम्बर, अक्टूबर तक कोरोना की तीसरी लहर आ सकती है। जो कि बच्चों के लिए घातक साबित हो सकती है। इसके दृष्टिगत सभी मेडिकल कालेजों को बच्चों के लिए 50 आईसीयू बेड्स एवं 50 नार्मल बेड्स रिजर्व रखने के निर्देश दे दिए गये हंै।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या