युवाओं के साथ 350 पार - प्रांशु दत्त द्विवेदी

लखनऊ 30 जून 2021, भारतीय जनता युवा मोर्चा के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष श्री प्रांशुदत्त द्विवेदी जी का आज 1090 चैराहे से मुख्यमंत्री चैराहा, विक्रमादित्य चैराहा, हजरतगंज चैराहा से लेकर भाजपा प्रदेश कार्यालय तक लखनऊ में आए हुए प्रदेश के तमाम कार्यकर्ताओं ने भव्य स्वागत किया। प्रदेश कार्यालय पर आयोजित पदभार कार्यक्रम में मंच का संचालन प्रदेश के महामंत्री कमलेश मिश्र तथा अनुभव द्विवेदी ने किया। सर्व प्रथम कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए भाजपा प्रदेश के उपाध्यक्ष पंकज सिंह जी ने कहा कि आज नवनियुक्त भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष प्रांशुदत्त द्विवेदी का लखनऊ प्रथम आगमन पर प्रदेश भर के युवाओं में जबरदस्त उत्साह देखने को मिला।
युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष प्राशुदत्त द्विवेदी जी ने युवाओं का आवाहन किया कि अगामी विधानसभा चुनाव में एक बार फिर से भाजपा की सरकार बनाने के लिए युवा मोर्चा के एक-एक कार्यकर्ता को जुटना है। तथा विपक्ष द्वारा फैलाये जा रहे झूठ, भ्रम, फरेब के मकडजाल का सफाया करना है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के सिपाही बनकर बूथ विजय का संकल्प लेकर युवा मोर्चा बढ़ेगा और 350 का लक्ष्य प्राप्त करेगा। अपने पदभार ग्रहण के अवसर पर प्रांशुदत्त द्विवेदी जी ने उद्बोधन का आरंभ भारत माता की जय से किया। प्रांशुदत्त जी ने शीर्ष नेतृत्व को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि मैंने अपने राजनैतिक जीवन का आरंभ भाजयुमो मण्डल उपाध्यक्ष के रुप में किया फिर जिलाध्यक्ष, फिर प्रदेश मंत्री, फिर राष्ट्रीय मंत्री, फिर भाजपा प्रदेश मंत्री और आज प्रदेश अध्यक्ष भाजयुमों के तौर अपने युवा साथियों के बीच खडा हूँ। उन्होंने प्रदेश के युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि अब हमारे पास विधानसभा चुनाव के लिए मात्र 7 महीनें हैं। मित्रों अब हमें दिन रात एक कर देना है। मैं आपका साथ कदम दर कदम पर दूंगा। उन्होंने आज एक नारा भी दिया ‘‘युवाओं के साथ, 350 पार।’’ भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह जी ने कहा 2017 में जब अखिलेश यादव जी की सरकार थी और उन्होंने सुब्रत पाठक के ऊपर खूब अत्याचार किया, एनएसए से लेकर रासुका तक लगाया। भारतीय जनता पार्टी ने सुब्रत जी को भाजयुमो अध्यक्ष बनाया और सुब्रत जी ने 2017 में बसपा और सपा को उखाड़ फेंका और भारतीय जनता पार्टी की अभूतपूर्व विजय हुई। फिर भारतीय जनता पार्टी ने सुभाष यदुवंश को भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष बनाया और 2019 के लोकसभा चुनाव में सपा-बसपा के एक होने के बावजूद हमने जीत दर्ज की। पार्टी बहुत सोच समझ कर भाजयुमों प्रदेश अध्यक्ष बनाती है। मुझे विश्वास है कि पार्टी ने प्रांशुदत्त द्विवेदी पर जो विश्वास जताया है। वह उस पर खरा उतरेंगे और उनके नेतृत्व में भारतीय जनता युवा मोर्चा 2022 के चुनाव में 350 सींटे जीतने का काम करेगी। भाजपा प्रदेश महामंत्री गोविंद नारायण शुक्ला ने कहा की प्रांशुदत्त जी का स्वागत सोनभद्र से लेकर सहारनपुर तक और झांसी से लेकर गोरखपुर तक युवाओं ने किया है। निश्चित तौर युवा मोर्चा के कार्यकर्ता प्रांशुदत्त के नेतृत्व में आगे बढ़ते रहेगे। प्रदेश महामंत्री सुब्रत पाठक जी ने कहा कि सन 2009 में उत्तर प्रदेश में मायावती जी की सरकार थी। मित्रों आप जानते हैं मायावती जी की जान प्रांशुदत्त द्विवेदी जी के ताऊ ब्रम्हदत्त द्विवेदी जी ने बचाई थी। उन्हीं मायावती ने अपनी सरकार में प्रांशुदत्त पर रासुका लगाया। किसी ने प्रांशुदत्त द्विवेदी से कहा कि चलो बसपा के एक बड़े नेता है उनके पैर छू लो, तो जेल जाने से बच जाओंगे। लेकिन प्रांशुदत्त ने कहा की मैं नहीं जाउंगा, बाहर निकलूंगा तो पुनः इनसे लडूंगा। निवर्तमान भाजयुमों प्रदेश अध्यक्ष सुभाष यदुवंश जी ने कहा की आज मैं दो कारणों से गौरवान्वित हुआ है। एक तो प्रांशुदत्त द्विवेदी जी के नेतृत्व में राष्ट्रवादियों की ताकत और मजबूत होगी और दूसरा भारत के सबसे बड़े प्रदेश के सबसे तत्पर युवाओं का नेतृत्व करने का पार्टी ने मुझे मौका दिया था। ये नौजवानों की फौज है जिसने 80 से अधिक युवा सम्मेलनों में जब हुॅकार लगाया तो सपाईयों और बसपाइयों की फौज दुबक कर घर में बैठ गयी। 2022 के विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश का यह युवा सपा और बसपा की जड़े खोदने का काम प्रांशुदत्त द्विवेदी जी के नेतृत्व में करेगा। पूर्व भाजयुमों प्रदेश अध्यक्ष आशुतोष राय ने कहा कि ये जो युवाओं की सेना आई है ये भगवान श्रीराम की सेना है। यही सेना पुनः 2022 में भाजपा का सरकार बनाने का काम करेगी। भाजयुमों प्रदेश मीडिया प्रभारी धनन्जय शुक्ला ने बताया कि युवा मोर्चा के प्रदेश पदाधिकारियों ने निवर्तमान प्रदेश अध्यक्ष सुभाष यदुवंश और नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष श्री प्रांशुदत्त द्विवेदी को भगवान श्रीराम जी की मूर्ति भेंट स्वरूप देकर सम्मानित किया। प्रदेश उपाध्यक्ष वरूण गोयल, आयुषी श्रीमाली, अभिषेक द्विवेदी, प्रदेश महामंत्री हर्षवर्धन सिंह, देवेन्द्र पटेल, प्रदेश मंत्री रोहन त्यागी, प्रशांत द्विवेदी, कोषाध्यक्ष अमरजीत मिश्रा, प्रदेश संयोजक संतोष जायसवाल, के.के गौतम तथा प्रदेश पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि