राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने सृष्टि संवाद भारती पत्रिका के विशेषांक का विमोचन किया

परिवार से ही संस्कृति, अनुशासन और परम्परा सीखता है मानव: आनंदीबेन पटेल
मानव के शारीरिक और बौद्धिक विकास में परिवार की महती भूमिका: आनंदीबेन पटेल
लखनऊ, शनिवार, 19 जून, 2021 उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने शनिवार को पूर्वान्ह 11:30 बजे विद्या भारती पूर्वी उत्तर प्रदेश द्वारा प्रकाशित हिन्दी मासिक पत्रिका 'सृष्टि संवाद भारती' के विशेषांक ‘परिवार भारत की आधार शक्ति’ का विमोचन किया। उन्होंने पत्रिका की सराहना करते हुए कहा कि परिवार ही भारत की आधार शक्ति है। मानव परिवार से ही संस्कार, अनुशासन, स्वच्छता, संस्कृति तथा परम्परा जैसे अनेक आचरण सीखता है। इस दृष्टि से मानव के जीवन में शारीरिक, आर्थिक तथा बौद्धिक विकास में परिवार की महती भूमिका है। इस अवसर पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल जी ने कहा कि वर्तमान पीढ़ी संस्कारित करना है तो परिवार व्यवस्था को पुष्ट करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि ये विशेषांक समाज, परिवार और खासकर बच्चों के लिये काफी लाभकारी सिद्ध होगा। इसलिए ऐसी पत्रिकाओं की उपयोगिता पर भी चर्चा अवश्य होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसी पत्रिकाएँ महाविद्यालयों और विश्वविद्यालयों में भी जानी चाहिए, जिससे भारतीय संस्कार, परम्परा और आचरण से युवा पीढ़ी भी परिचित हो सके। उन्होंने कहा कि मैं विश्वविद्यालय के कुलपतियों को कहूंगी कि वो इस पत्रिका को मंगायें और अपने महाविद्यालयों को भेजें, जिससे शिक्षकों को संस्कारी शिक्षा के तौर तरीकों, परिवार के महत्व का समझने में सुविधा होगी। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालयों में महिला सेल बनाई गयी है, जो नवनिर्वाचित महिला प्रधानों से सम्पर्क करके उन्हें प्रशिक्षित करेंगी, जिससे लोगों को सरकार की योजनाओं का सही लाभ मिल सके। इसके साथ ही महामारी जैसे संकट से निपटने में सक्षम भी हो सकेंगी। विद्या भारती के अखिल भारतीय सह संगठन मंत्री मा. यतीन्द्र जी ने म राज्यपाल को उच्च शिक्षा को लेकर विद्या भारती द्वारा किए जा रहे प्रयासों से अवगत कराया। क्षेत्रीय संगठन मंत्री मा. हेमचन्द्र जी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रकल्प सेवाभारती और विद्या भारती द्वारा कोरोना काल में चलाये जा रहे कोविड आइसोलेशन वार्ड एवं अन्य सेवा कार्यों की जानकारी दी। क्षेत्रीय प्रचार प्रमुख श्री सौरभ मिश्रा जी ने प्रो रज्जू भैया उच्च तकनीकी डिजिटल सूचना संवाद केंद्र और कोरोना की संभावित तीसरी लहर से सुरक्षा हेतु चलाये जा रहे 'बच्चे हैं अनमोल' जागरूकता अभियान की जानकारी दी, जिसकी सराहना करते हुए राज्यपाल ने शीघ्र ही सूचना संवाद केंद्र के भ्रमण की इच्छा जताई। इस विशेषांक का संकलन और संपादन विद्या भारती की अखिल भारतीय संयोजिका बालिका शिक्षा सुश्री रेखा चुडासमा जी ने किया है। इस अवसर पर विद्या भारती पूर्वी उत्तर प्रदेश के बालिका शिक्षा प्रमुख श्री उमाशंकर मिश्रा जी, प्रशिक्षण प्रमुख दिनेश जी, सह प्रचार प्रमुख श्री भास्कर दूबे, सुश्री शुभम सिंह, रजनीश वर्मा मौजूद रहे। ----------------------------------------------------------

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?