आगामी विधानसभा चुनावों में कोई चमत्कार ही भाजपा को बचा सकता है: बहुजन विजय पार्टी

लखनऊ। क्षेत्रीय पार्टियों के महासंघ विपक्षी दल मोर्चा संयोजक व बहुजन विजय पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष केशव चन्द्र पाण्डेय ने आज लखनऊ में कहा कि राजनीतिक हालात बदले हैं, जनता की सोच बदली है तथा बीजेपी के सामने विकट चुनौतियां हैं जिसकी अनदेखी उसे भारी पड़ने वाली है। आत्ममुग्ध भाजपा अगर जनाक्रोश की आहट नहीं सुन सकती तो आगामी विधानसभा चुनाव उसके लिए निर्णायक होने वाले हैं। भाजपा 100 सीटों के अन्दर ही सिमट सकती है। उन्होंने कहा कि अपनी पार्टी में पन्ना प्रमुख बनाने वाली भारतीय जनता पार्टी अब समय रहते क्षेत्रीय दलों से बात करें तो अच्छे परिणाम आ सकते हैं। आज लखनऊ में मीडिया से मुखातिब बहुजन विजय पार्टी अध्यक्ष केशव चन्द्र पाण्डेय ने कहा कि अति आत्मविश्वास भाजपा को महंगा पड़ने वाला है जिसका फायदा राष्ट्र विरोधी ताकतें उठाएंगी। उन्होंने कहा कि बीवीपी का भाजपा से कोई गठबंधन न होने के बावजूद पहले भी बीवीपी भाजपा का सहयोग करते आई है तथा इस समय भी राष्ट्रधर्म निभाना जरूरी समझती है। केशव चन्द्र पाण्डेय ने कहा कि सपा सरकार का हमने हर कदम पर विरोध किया है किंतु जब आज बीजेपी 100 से कम सीटों पर सिमटने जा रही है तो बोलना जरूरी हो गया है। यह चिंता का विषय है। अगर ऐसा हुआ तो भाजपा सत्ता से लंबे समय से दूर होगी क्योंकि वर्तमान समय में राष्ट्र विरोधी ताकतें तेजी से एक हो रही हैं। इसी क्रम में राम जन्मभूमि से संबंधित जमीन घोटाले और ओमप्रकाश राजभर का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि ओमप्रकाश राजभर का ओवैसी के साथ गुप्त एजेंडा है जो पूरी तरीके से राष्ट्र द्रोही है। उन्होंने भाजपा को बताया कि सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट और केंद्र की रोहिणी कमीशन रिपोर्ट लागू करने के कारण नहीं बल्कि ओवैसी से गुप्त एजेंडे में भागीदार होने के कारण भाजपा से अब नहीं जुड़ेंगे। बहुजन विजय पार्टी अध्यक्ष ने कहा कि कोई चमत्कार ही आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को बचा सकता है। उन्होंने भाजपा को सलाह दी कि वह ओवैसी को अपना आदर्श मानने वाले व सत्ता से अपनी बर्खास्तगी के बाद सार्वजनिक मंचों से भाजपा नेताओं के लिए अपशब्दों का प्रयोग करने वाले राजभर के बजाय सवर्ण समाज पर ध्यान केंद्रित करें जो भाजपा से आज बेहद नाराज है। केशव चन्द्र पाण्डेय ने कहा कि वे ब्राह्मण समाज के होने के नाते ऐसा नही कह रहे बल्कि यह सच्चाई है कि ब्राह्मण मतदाता इस बार भारतीय जनता पार्टी को भारी नुकसान करने वाले हैं जो भाजपा को हिला सकता है। उन्होंने कहा कि भाजपा ओवैसी के साथियों के बजाय ब्राम्हण नेताओं और क्षेत्रीय दलों पर फोकस करें तो बात बन सकती है। विपक्षी दल मोर्चा संयोजक केशव चन्द्र पाण्डेय ने कहा कि उनका मोर्चा प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में स्वतंत्र रूप से भागीदारी करने वाला है किंतु किसी भी दशा में हम राष्ट्रद्रोही ताकतों से समझौता करने के पक्षधर नहीं हैं। उन्होंने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में हमारी लगातार मजबूत होती जा रही स्थिति को देखते हुए अनेक महत्वपूर्ण राजनीतिक दल हमारे सम्पर्क में हैं किंतु हम अपने प्रखर राष्ट्रवाद के मुद्दे पर कायम हैं और आगे भी रहेंगे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?