नन्ही गौरैया की रेस्क्यू कर बचाई जान

मानव आर्गेनाइजेशन के सदस्यों का रहा सहयोग
ललितपुर। शुक्रवार को तालाबपुरा निवासी मधुर सोनी ने मानव ऑर्गेनाइजेशन के हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके जानकारी दी कि उनके घर पर लगे गौरैया घर मे एक गौरैया का बच्चा घोंसले में धागे में फंसा हुआ है और परेशान हो रहा है। कृपया आप जल्दी आ जाइए तब गौरैया बचाओ अभियान सदस्य डा.राजीव कुमार निरंजन उनके घर पहुंचे और बहुत ही सावधानी से गौरैया को उस घौंसले से बाहर निकाला, उसका एक पैर काफी घायल हो चुका था। जिसके बाद उसे प्राथमिक उपचार दिया गया। मधुर सोनी ने मानव आर्गेनाइजेशन के गौरैया बचाओ अभियान के सदस्यों को धन्यवाद दिया कि जो एक ही फोन कॉल पर आकर नन्ही गौरैया की जान बचाई और कहा की समाज में सब लोगों को गौरैया व अन्य पक्षियों के प्रति जागरूक होना चाहिए। डा.राजीव कुमार निरंजन ने बताया की हमारी टीम सदैव गौरैया बचाओ अभियान के लिए समर्पित अगर कभी भी ऐसी कोई घटना घटित होती है तो कोई भी हमारी टीम के सदस्यों से संपर्क कर सकता है। गौरैया बचेगी तभी आपके घर आंगन में गौरैया की मधुर चहचहाहट गूंजेंगी।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि