महिलाओं के लिए स्पेशल टीकाकरण केन्द्र हैं स्थापित, राज्य महिला आयोग की सदस्य ने की समीक्षात्मक बैठक

ललितपुर। शासन के निर्देशानुसार राज्य महिला आयोग की सदस्य डा. कंचन जायसवालने जनपद के अधिकारियों के साथ समीक्षात्मक बैठक कर महिला कल्याण सम्बंधी योजनाओं की समीक्षा की। बैठक में सर्वप्रथम उन्होंने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा की, जिसमें उन्होंने टीकाकरण के बारे में जानकारी ली। इस पर बताया गया कि जनपद में विभिन्न सिलों पर टीकाकरण केन्द्र बनाये गए हैं, जिनमें 02 टीकाकरण केन्द्र महिला स्पेशल हैं। यह भी बताया गया कि गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कोरोना काल के दौरान संस्थागत प्रसव की स्थिति की भी जानकारी ली, जिस पर डा.आसू बजाज द्वारा बताया गया कि चिकित्सालय में संस्थागत एवं नॉर्मल प्रसव की सुविधा उपलब्ध है। चिकित्सालय में आने वाली महिलाओं का सर्वप्रथम रैपिड एंटीजन टेस्ट कराया जाता है, तत्पश्चात कोविड प्रोटोकॉल के तहत प्रसव व उपचार किया जाता है। इसके उपरान्त जिला प्रोबेशन अधिकारी द्वारा बताया गया कि ग्रामों में कोविड/संदिग्ध मरीजों की निगरानी के लिए निगरानी समितियां गठित की गई, जिनमें आंगनबाड़ी कार्यकत्री भी शामिल हैं, जो ग्रामों में जाकर लोगों को वैक्सीनेशन के प्रति जागरुक कर रही हैं। इस पर सदस्य ने निर्देश दिये कि वैक्सीनेशन के कार्य में ग्राम प्रधानों का अपेक्षित सहयोग लिया जाये, जिससे टीकाकरण की प्रगति और बड़ सके। बैठक के दौरान सदस्य ने जिला पंचायत राज अधिकारी के प्रतिनिधि से पंचायत चुनाव में शामिल महिला प्रत्याशियों की सूचना उपलब्ध करायी जाये। इसके उपरान्त जिला समाज कल्याण अधिकारी ने विभाग द्वारा संचालित वृद्धाश्रम के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि यहां पर निराश्रित वृद्धजनों को रखकर उनकी पूरी देखरेख की जाती है, उन्हें भोजन, पानी व दवाएं भी उपलब्ध करायी जाती हैं। बैठक में जिला पूर्ति अधिकारी द्वारा सार्वजनिक वितरण प्रणाली के बारे में जानकारी देते हुए बताया गया कि सरकार के निर्देशानुसार वर्तमान में नि:शुल्क खाद्यान्न का वितरण किया जा रहा है। इसके साथ ही कार्डधारकों को राशन पोर्टेबिलिटी की सुविधा भी दी गई है, जिसके माध्यम से वे किसी भी उचित दर की दुकान से खाद्यान्न प्राप्त कर सकते हैं। मौके पर उन्होंने जिला समन्वयक मिड डे मील से बेसिक विद्यालयों एवं कस्तूबरा विद्यालयों के बारे में जानकारी प्राप्त की। साथ ही निर्देश दिये कि कोई भी बच्चा मिड डे मील से वंचित नहीं रहना चाहिए। मौके पर अपर उप जिलाधिकारी रमेश चन्द्र, परियोजना अधिकारी डूडा राजीव शुक्ला, जिला कार्यक्रम अधिकारी पुष्पा वर्मा, जिला पूर्ति अधिकारी राजीव कुमार, जिला समाज कल्याण अधिकारी अभिषेक अवस्थी, स्वास्थ्य विभाग से डी.पी.एम. रजिया फिरोज, अध्यक्ष बाल कल्याण समिति कैलाश अग्रवाल, जिला सूचना अधिकारी उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या