सीएचसी व सीएससी पर कराया जा सकता है टीकाकरण का रजिस्ट्रेशन

कोर कमेटी की बैठक में डीएम ने अधिकारियों को दिये निर्देश
ललितपुर। जिलाधिकारी अन्नावि दिनेशकुमार की अध्यक्षता में कोविड 19 कोर कमेटी की बैठक कलेक्ट्रेट पार्क में आयोजित की गई। बैठक में सर्वप्रथम विगत 24 घंटे के कोविड परिणामों पर चर्चा हुई। टीकाकरण के संबंध में यह भी बताया गया कि कल से जनपद में 18 से 44 वर्ष के नागरिकों का कोविड टीकाकरण अभियान शुरू किया जा रहा है। इस हेतु जनपद में उक्त आयु वर्ग हेतु प्रतिदिन जनपद न्यायालय, सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग कार्यालय, नगर संसाधन केंद्र जखौरा एवं विकास भवन में ऑन स्पॉट रजिस्ट्रेशन कर टीकाकरण किया जा रहा है, इसके अतिरिक्त अन्य स्थानों पर टीकाकरण कराने के लिए पूर्व से ही रजिस्ट्रेशन कराना होगा, इसके लिये जनपद में समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों एवं कॉमन सर्विस सेंटरों पर टीकाकरण हेतु रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है। इस पर जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा 18 से ऊपर के आयु वर्ग के लोगों के लिए कल से विशेष टीकाकरण अभियान संचालित किया जा रहा है, इसके लिए सभी तैयारियां पूर्ण कर लें, कहीं पर भी किसी प्रकार की लापरवाही ना होने दें। साथ ही विभिन्न माध्यमों से जनपद में टीकाकरण के संबंध में व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जाए। बैठक में सर्विलांस कार्य की समीक्षा में बताया गया कि लेखपाल व ग्राम विकास अधिकारी प्लान के अनुसार ग्रामों में नहीं जा रहे हैं। उप जिलाधिकारी एवं खंड विकास अधिकारी अपने-अपने लेखपालों एवं सचिवों को रोस्टर के अनुसार ग्राम में भेजें साथ ही उक्त रोस्टर जोनल/सेक्टर मजिस्ट्रेट को भी उपलब्ध कराएं। कोविड अस्पतालों की समीक्षा में बताया गया कि अस्पतालों में मरीजों को नियमित रूप से मोनिटर किया जा रहा है, उन्हें समय पर भोजन, पानी व दवाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। उन्होंने निगरानी समितियों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए गए कि ग्रामीण क्षेत्रों में संदिग्ध मरीजों की निगरानी करें। साथ ही टीकाकरण करा चुके लोगों के माध्यम से ग्राम के अन्य लोगों को प्रोत्साहित किया जाए। फेसेलिटी एलोकेशन की समीक्षा में बताया गया कि आज मात्र 03 संक्रमित मरीज पाए गए मरीजों का फेसेलिटी एलोकेशन किया गया है। सफाई एवं सैनेटाइजेशन की समीक्षा में बताया गया कि जनपद में शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष सफाई अभियान चलाया जा रहा है तथा नियमित रूप से ब्लीचिंग एवं चूने के पाउडर का छिडक़ाव एवं फॉगिंग का कार्य कराया जा रहा है। निर्देश दिए गए कि जनपद में कोविड प्रोटोकॉल का अनिवार्यता के आधार पर पालन कराया जाए। बैठक में सीडीओ, एडीएम, एडीएम न्यायिक, एडीएम न्यायिक, सीएमओ, डीसी मनरेगा, ईओ, डीपीआरओ, अल्पसंख्यक अधिकारी के अलावा अनेकों अधिकारी मौजूद रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या