कोरोना काल में देवदूत बने ललितपुर सेवा ग्रुप के सदस्य

ललितपुर। दुनिया में इंसान के रूप में तो सभी जन्म लेते हैं, लेकिन इंसान के रूप में देवता का कार्य कोई करें तो वह जरूरतमंदों के लिए एक ईश्वर से कम नहीं है। हम बात कर रहे हैं ललितपुर सेवा ग्रुप के अध्यक्ष अंकुर जैन शानू बाबा की। जिन्होंने अपने साथ युवाओं की टीम को मिलाकर लोगों की सेवा की एक मिसाल कायम की है। इन दिनों कोरोना संक्रमण में जहां लोग अपनी जान गंवा रहे हैं। तो वहीं लोग घरों में रहकर अपनी जिंदगी बचाने के प्रयास में लगे हुए हैं। इसके अलावा सरकारी तंत्र से मदद नहीं मिलने की आस में लोग असहाय भी नजर आ रहे थे। ऐसे समय में लोगों की जिंदगी बचाने के लिए ललितपुर सेवा ग्रुप के सदस्य देवदूत बनकर आगे आए। ग्रुप के सभी सदस्यों ने अपने स्वयं के प्रयासों से लोगों के लिए निशुल्क ऑक्सीजन, निशुल्क एंबुलेंस सेवा और निशुल्क खाना देकर लोगों को राहत पहुंचाने का काम किया है। ललितपुर सेवा ग्रुप की ओर से केवल गरीबों को ही यह सुविधा उपलब्ध नहीं कराई गई, बल्कि जो भी जरूरतमंद हैं उन लोगों तक सुविधाएं पहुंचाने का काम किया है। इसमें चाहे गरीब हो या फिर कोरोना वॉरियर्स के रूप में तैनात पुलिसकर्मी। इस संकट के समय में पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए रात दिन एक कर अपनी ड्यूटी कर रहे हैं। वहीं ललितपुर सेवा ग्रुप ने इन लोगों को भी दोनों समय खाना भेज कर मानव सेवा का सटीक उदाहरण पेश किया है। वहीं समाजसेवा का जज्बा पाले ग्रुप के युवाओं ने अपनी निजी टाटा सफारी जैसे वाहनों को एंबुलेंस के रूप में परिवर्तित कर उसमें ऑक्सीजन फिट करके लोगों को ललितपुर से भोपाल, इंदौर या कहीं भी अन्य प्रांत में भेजने का काम किया है। साथ ही पिछले वर्ष भी कोरोना के समय ललितपुर सेवा ग्रुप के सदस्यों ने प्रवासी मजदूरों को लगातार दो माह तक खाना खिलाने का काम किया था। आज भी उनका यह सेवा कार्य बिना रुके निरंतर चल रहा है। ग्रुप के सदस्य आज हर रोज दोनों समय लगभग 500 भोजन के पैकेट कोरोना वॉरियर्स पुलिसकर्मी, डॉक्टर, नर्सिंग स्टाफ, वार्ड बॉय, सफाई कर्मियों को दोनो टाइम भोजन उपलब्ध करा रहे हैं। वहीं अभी तक एंबुलेंस की मदद से 50 से ज्यादा लोगों को अपने खर्च पर अस्पताल से अन्य जगह तक भेजने का इंतजाम कर चुके हैं। इसके साथ ही लोगों को मुफ्त ऑक्सीजन की व्यवस्था की है। ग्रुप द्वारा ऑक्सीजन के सिलेन्डर व कन्संट्रेटर लोगो को निशुल्क उपलब्ध कराये गये। ग्रुप के सेवा कार्यों को देखते हुए कई समाजसेवियों ने आगे बढक़र इन युवाओं का हौसला बढ़ाते हुए मदद के लिए आगे हाथ बढ़ाया है। सेवा कार्यों मे लगातार कार्य करने मे अध्यक्ष अंकुर सानू बाबा, पवन साहू, आशीष रिछारिया, अभिषेक पुच्ची कबाड़ी, गोपाल साहू, अनूप ताम्रकार, महेश अनोरा, अंकुर जैन अप्सरा, अंकित सराफ, हिमांशु साहू मोनू, अंकी कबाड़ी, स्वप्निल सराफ, अब्बू नामदेव, संजू नामदेव, आशु नामदेव, सुन्नू सोंनी, सुरेंद्र मिठया, डा.संजीव जैन, विनय समैया, अभिषेक समैया, सन्दीप समैया, मनीष फोटो, अज्जु जैन, अंशुल पहलवान, गौरव सोनी, कमलेश, रवि सर, शुभम नानू, वरुण समैया, प्रभात चौरसिया, अमित पुल्ली, संजय कबाड़ी, पप्पू भट्टी, अतिशय जैन आदि अपनी सेवायें दे रहे है।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या