प्रदेश में प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में 39,72,308 लाभार्थी हुए पंजीकृत

लखनऊः दिनांकः 20 जुलाई, 2021 यह पूरे परिवार की जिम्मेदारी है कि गर्भवती महिला सदस्य की सही देखभाल हो, उसका उचित खान-पान हो, जिससे माँ और बच्चा दोनों स्वस्थ रहें। किसी भी महिला के पहली बार गर्भवती होने पर सरकार भी इस दायित्व में कदम से कदम मिला रही है। गर्भवती महिला की देखभाल के लिए प्रदेश में वर्ष 2017 से प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना लागू है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग से योजना के नोडल अधिकारी राजेश वांगिया से प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में प्रदेश में 31 मई, 2021 तक 39,72,308 लाभार्थी पंजीकृत हो चुके हैं, जो कि लक्ष्य के सापेक्ष 95.02 प्रतिशत है। लाभार्थियों को योजना के अंतर्गत रू0 153600.31 लाख की धनराशि का भुगतान भी किया जा चुका है। प्रदेश में गर्भवती महिलाओं से जुड़ा जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम भी लागू है। इसके अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को निःशुल्क परिवहन, निःशुल्क जांचे, निःशुल्क औषधि, निःशुल्क भोजन एवं आवश्यकता पड़ने पर निःशुल्क ब्लड ट्रांसफ्यूजन की सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं। इस वर्ष मई, 2021 तक 50 लाख गर्भवती महिलाओं के सापेक्ष 3,38,109 लाभार्थियों को निःशुल्क उपचार, 1,35,605 लाभार्थियों को निःशुल्क भोजन एवं 3,29,257 लाभार्थियों को निःशुल्क जांच की सुविधा प्रदान की जा चुकी है।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा