बच्चों को तैराकी के लिए विशेष स्थान निर्मित करने की मांग

राज्यमंत्री व जिला पंचायत अध्यक्ष ने पी.एस.नई बस्ती देहरे बाबा में किया वृक्षारोपण ललितपुर। उत्तर प्रदेश सरकार के राज्यमंत्री मनोहरलाल पंथ एवं नव निर्वाचित जिला पंचायत अध्यक्ष कैलाश निरंजन ने प्राथमिक विद्यालय नई बस्ती देहरे बाबा में वृक्षारोपण किया। विद्यालय परिवेश की भौतिक साजसज्जा एवं विद्यालय प्रबंधन को देखते हुए जिला पंचायत अध्यक्ष ने एवं समस्त जनप्रतिनिधियों ने विद्यालय के प्रधानाध्यापक एवं सहयोगियों की सराहना की। जिला पंचायत व प्रदेश सरकार की ओर से विद्यालय प्रधानाध्यापक को विशेष प्रयास कर अद्वितीय विद्यालय वातावरण सृजन करने पर प्रशस्ति पत्र दिलाने की बात कही। राज्यमंत्री ने कहा की उनके विधानसभा क्षेत्र का यह विद्यालय न केवल जनपद में बल्कि प्रांत में भी अपना विशिष्ट स्थान रखता है। विद्यालय के कुछ बच्चों ने जब उनसे देश के महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात का आग्रह किया तो उन्होंने आश्वासन दिया कि देश के राष्ट्रपति की सुविधा अनुसार समय लेकर इस दिशा में ठोस प्रयास किया जाएगा। गांव के ग्राम प्रधान ने विद्यालय परिसर में उपलब्ध स्थल पर बच्चों के तैरने के लिए एक विशेष स्थान निर्मित किए जाने की मांग की ग्राम वासियों एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने बताया कि परिषदीय विद्यालयों में विद्यार्थियों के तैराकी की प्रतियोगिता आयोजित किए जाने की कोई व्यवस्था नहीं होती है। इस विद्यालय में स्थान है जनपद के नजदीक है यदि इस विद्यालय को इस रूप में विकसित किया जाए तो निश्चित ही तैराकी के क्षेत्र में छिपी जनपद प्रतिभाओं को निखारने में यह विद्यालय महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकता है। इस दौरान राज्यमंत्री मनोहरलाल पंथ, जिला पंचायत अध्यक्ष कैलाश निरंजन, भाजपा प्रांतीय कार्यकारिणी सदस्य धर्मेंद्र गोस्वामी, गंधर्व सिंह, नीरज जैन गौना, जिला पंचायत सदस्य रामू कुशवाहा, सोनू, ग्राम प्रधान झरावटा, क्षेत्र पंचायत सदस्य अशोक तिवारी, ग्राम पूर्व प्रधान घटवार शशिकांत दीक्षित, ग्राम प्रधान मसौराकलां, राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के सचिव हेमंत तिवारी व विद्यालय स्टाफ से सक्रिय रूप से उपस्थित रहे। समस्त आगंतुकों का आभार व्यक्त विद्यालय के प्रधानाध्यापक अनंत तिवारी ने किया।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या