कोरोना संक्रमण काल में ग्रामीण चिकित्सकों ने साहस के साथ कार्य किया और मौत के सैलाब को बांधा: वल्लभाचार्य पाण्डेय

वाराणसी : 3 जुलाई 2021 आशा ट्रस्ट ने 16 ग्रामीण चिकित्सकों को "कोरोना योद्धा सम्मान पत्र" और 'स्वास्थ्य सुरक्षा किट' देकर सम्मानित किया गया ग्रामीण चिकित्सक सम्मान कार्यक्रम के अंतर्गत शनिवार को चौबेपुर क्षेत्र के डुढूवां ग्राम स्थित दुर्गा जी मंदिर परिसर में आयोजित किये गये कार्यक्रम में डुढूवां, सरैया, टेकुरी, लक्ष्मीसेनपुर, धौरहरा, हरिहरपुर और श्रीकंठपुर गाँव में चिकित्सा कार्य कर रहे 16 चिकित्सकों को "कोरोना योद्धा सम्मान" से सम्मानित किया गया साथ ही उन्हें स्वास्थ्य सुरक्षा किट भी प्रदान किया गया जिसमें ऑक्सीमीटर, थर्मल स्कैनर, वेपोराइजर, थर्मामीटर, फेस शील्ड, मास्क, आवश्यक दवाएं, पर्चे आदि दिए गये जिसका चिकित्सा के दौरान प्रयोग किया जा सके. कार्यक्रम के दौरान लोगों को दो गज दूरी के साथ ही मास्क लगाये रखने की अपील की गयी और कोविड से बचाव सम्बन्धी जागरूकता के परचे दिए गये. उक्त कार्यक्रम सामाजिक संस्था 'आशा ट्रस्ट' के तत्वावधान में किया गया. कार्यक्रम समन्वयक वल्लभाचार्य पाण्डेय ने कहा कि कोरोना संक्रमण के दूसरे लहर के दौरान जब सरकारी अस्पतालों और बड़े अस्पतालों में बेड और आक्सीजन के लिए हाहाकार मचा हुआ था उस समय दूर दराज गाँवों में चिकित्सकजन ने बड़ी जिम्मेदारी के साथ पीड़ित और संक्रमित लोगों को चिकित्सा सुलभ कराइ. इन चिकित्सको के पास प्रायः बड़ी डिग्री नही होती लेकिन इनका विभिन्न प्रकार की स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज करने का अनुभव कही बहुत ज्यादा है और यही कारण था कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान इन चिकित्सकों ने ग्रामीण क्षेत्र में हजारों लोगों की जान बचाई. इस अवसर पर मुख्य अतिथि, किसान नेता रामजनम भाई ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में सेवा कर रहे तमाम निजी चिकित्सकों ने महामारी के दौर में मानवता की सेवा की मिसाल कायम की है, उन्हें प्रोत्साहित किये जाने की आवश्यकता है. स्वागत करते हुए ग्राम प्रधान पारस यादव ने कहा प्रत्येक गाँव में मानदेय पर जन स्वास्थ्य रक्षकों की नियुक्ति की जानी चाहिए जिससे ग्रामीण क्षेत्र में सामान्य जांच जैसे रक्तचाप, मधुमेह, ऑक्सीजन स्तर आदि आसानी से सुलभ हो सके. चिकित्सकों की तरफ से धन्यवाद ज्ञापन डा. शोभनाथ यादव ने किया कार्यक्रम में प्रदीप कुमार सिंह, रमेश प्रसाद, सूरज पाण्डेय आदि की प्रमुख भूमिका रही. सम्मानित किये गये चिकित्सक गण: रंजीत सिंह यादव, जय प्रकाश यादव, तिलक धारी विश्वकर्मा, उत्तम कुमार राय, रविन्द्र यादव, शोभनाथ यादव, विमल विश्वकर्मा, संजय यादव, राजेश यादव, मो. बिस्मिल्लाह, विश्वनाथ प्रसाद, विनोद, भिक्खम राम, सुरेश प्रसाद, जवाहिर, मो. कादिर.

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या