वाल्मी संस्थान में सहायक अभियन्ता (सिविल) का आधारभूत प्रशिक्षण शुरू

लखनऊः दिनांकः 27 जुलाई, 2021 सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग के सहायक अभियन्ता (सिविल) का 90 दिवसीय आधारभूत प्रशिक्षण का शुभारम्भ लखनऊ स्थित वाल्मी संस्थान में हुआ, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में श्री ए0 के0 सिंह, प्रमुख अभियन्ता (परिकल्प एवं नियोजन) उपस्थित रहे। इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के रूप में श्री आलोक कुमार जैन, मुख्य अभियन्ता स्तर-1 एवं विशेष आमंत्रित अतिथि के रूप में श्री राकेश कुमार, मुख्य अभियन्ता (बजट) उपस्थित रहे। इस अवसर पर वाल्मी लखनऊ के मुख्य अभियन्ता एवं निदेशक श्री कृष्ण कुमार ने सभी अतिथियों एवं प्रशिक्षणार्थियों का स्वागत करते हुए वाल्मी संस्थान में आयोजित प्रशिक्षण की उपयोगिता एवं महत्ता के बारे में विस्तार से अवगत कराया। विशिष्ट अतिथि श्री आलोक कुमार जैन के द्वारा अपने विभाग के अनुभव को साझा करते हुए बताया गया कि प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षण में पूर्ण लगन एवं निष्ठा से प्रतिभाग करना चाहिए, जिससे प्रशिक्षण का सही लाभ प्राप्त हो तथा उनके कौशल में गुणोत्तर वृद्धि हो सके।
मुख्य अतिथि के सम्बोधन में श्री ए0 के0 सिंह, प्रमुख अभियन्ता (परिकल्प एवं नियोजन) द्वारा आधारभूत प्रशिक्षण की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए बताया गया कि प्रशिक्षण सेवा का सबसे महत्वपूर्ण अंग है, जिसे पूर्ण करने के बाद प्रशिक्षणार्थियों में संस्थागत भाईचारा का विकास होता है एवं इससे व्यवाहारिकता की सीख भी मिलती है। कार्यक्रम को वाल्मी संस्थान के प्रोफेसर श्री अजय कुमार झा, श्री ज्ञानचन्द सिंह, श्री आलोक प्रताप सिंह, उपनिदेशक (प्रशासन) एवं एसोसिऐट प्रोफेसर श्री राजेश शुक्ला ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम का सफल संचालन कोर्स निदेशक एवं एसोसिएट प्रोफेसर श्री केसरी नन्दन त्रिपाठी द्वारा किया गया। अंत में संस्थान के निदेशक श्री कृष्ण कुमार द्वारा सभी अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापन करते हुए कार्यक्रम का समापन किया गया।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा