गल्ला मण्डी, मिलें व थोक व्यापार मंगलवार को रहेगा बंद

भारत सरकार पर व्यापारियों ने लगाया मनमानी करने का आरोप
ललितपुर। भारत सरकार द्वारा दलहन व्यापारियों के ऊपर लागू की गई स्टॉक सीमा के विरोध में उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मंडल के आवाहन पर प्रदेश की गल्ला मंडी, मिलें एवं थोक व्यापार 6 जुलाई 2021 दिन मंगलवार को बंद रहेंगे। भारत सरकार की मनमानी के विरोध में ललितपुर जिले की महरौनी, मडावरा, तालबेहट सहित सभी गल्ला मंडी भी बंद रहेंगी। यह निर्णय जिला उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल की एक बैठक में लिया गया। बैठक में वक्ताओं ने कहा कि भारत सरकार ने दलहन पर जो स्टॉक सीमा निर्धारित की है उससे व्यापारियों के अलावा किसानों का भी अहित होगा। सरकार के इस मनमाने निर्णय के खिलाफ व्यापारी पूरी तरह एकजुट हैं। उन्होंने बताया कि भारत सरकार के इस निर्णय के विरोध में अपनी एकजुटता प्रदर्शित करते हुए सभी गल्ला व्यापारी जिला उद्योग व्यापार प्रतिनिधिमंडल के साथ गल्ला मंडी ललितपुर में सुबह 11 एकत्रित होंगे तथा स्टॉक सीमा के विरोध में जिला अधिकारी कार्यालय पहुंचकर जिला अधिकारी को अपनी मांगों से संबंधित एक ज्ञापन भेंट करेंगे। बैठक में सभी व्यापारियों से कल मंगलवार 6 जुलाई 2011 को ज्ञापन कार्यक्रम में उपस्थित रहने की अपील की गई। आज किस बैठक की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष प्रदीप त्रिपाठी ने की तथा संचालन अनिल जैन ने किया। इस बैठक में संगठन के प्रांतीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष महेंद्र जैन मयूर विशिष्ट अतिथि के तौर पर उपस्थित रहे। इसके अलावा लखन लाल अग्रवाल, गल्ला मंडी अध्यक्ष अशोक जैन अनोरा, नवीन सिंघई , प्रीतम सर्राफ, अभय जैन एड., अनिल बवड़ी, महेश सतभैया, नगर अध्यक्ष महेश जैन मोनू, दीपक सोनी, युवा अध्यक्ष सतीश जैन बंटी, महामंत्री बबली सुडेले युवा नगर अध्यक्ष मज्जू सोनी, राहुल, विजय, अवध बिहारी उपाध्याय, रमाकांत तिवारी, राजवीर सिंह, बृजेश बाजपेई, सोम चौधरी, आलोक जैन मयूर, मुनिराज त्रिपाठी आदि अनेक लोग उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?