उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी के उपाध्यक्ष ने राज्यपाल से बुंदेलखंड विश्वविद्यालय में संगीत विभाग खोले जाने की मांग की

झांसी, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल के झांसी आगमन के अवसर पर उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी के उपाध्यक्ष डॉ धन्नूलाल गौतम ने राज्यपाल से भेटकर बुंदेलखंड विश्वविद्यालय में संगीत विभाग खोले जाने की मांग की ।गौरतलब है कि भारत के श्रेष्ठ संगीतकार उस्ताद आदिल खान, छत्रपति सिंह देव पदम श्री, विजना महाराज पखावज वादक, ग्वालियर घराने के प्रसिद्ध संगीतज्ञ शिक्षक शंकरराव पांसे, बुंदू उस्ताद , पंडित बालकृष्ण, बाफती, रामप्रसाद जी, गिरधारी मास्टर साहब ,पुरन्दरे मास्टर साहब आदि अनेक संगीतज्ञ बुंदेलखंड की धरती को गौरवान्वित करते रहे ।उन्होंने शास्त्रीय संगीत का एक ऐसा वातावरण बनाया था कि यहां के छात्र प्रतिभावान संगीतकार बनने की राह में निरंतर शिक्षा ग्रहण कर रहे है। स्नातकोत्तर और इसके आगे की शिक्षा के लिए मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ दिल्ली आदि क्षेत्रों में जाने के लिए विवश हैं। डॉ. धन्नू लाल गौतम ने राज्यपाल से कहा कि बुंदेलखंड विश्वविद्यालय बुंदेलखंड क्षेत्र का एकमात्र उच्च शिक्षा ग्रहण करने के लिए एक महत्वपूर्ण विश्वविद्यालय है ,यहां अन्य विषयों की शिक्षा के साथ सांस्कृतिक विद्याओं को प्रोत्साहन देने के लिए बुंदेलखंड विश्वविद्यालय में संगीत विभाग का शीघ्र शुभारंभ कराया जाए। हमारे पूर्वज की थाती संगीत का बुंदेलखंडी रूप सुरक्षित रह सके।वीर भूमि बुंदेलखंड का अल्हा गायन दुनियां भर में प्रसिद्ध है। भारतीय शास्त्रीय संगीत का वातावरण फिर से स्थापित हो। राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल को ज्ञापन देने में झांसी जिला पंचायत के अध्यक्ष पवन कुमार गौतम तथा डॉ. धन्नूलाल गौतम उपसभापति उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी प्रमुख थे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या