समझिये 16 महिला हॉकी खिलाड़ी की कहानी


1 रानी रामपाल शाहाबाद  से आती हैं ।पिता जी तांगा चलते है।

2 गुरजीत कौर मियाद कलां अमृतसर किसान की बेटी हैं।

3 सलीमा झारखण्ड से है आज भी कच्चे मकान में रहती हैं।बहन मेड का कार्य करती हैं।

4 निक्की प्रधान झारखण्ड से है पिता जी पुलिस में हैं।

5 वन्दना कटारिया रोशनाबाद हरिद्वार से है ।पेड़ की टहनी से हॉकी खेलना सीखा गरीब परिवार से है।

6 नवजोत कौर  मुजफ्फरनगर उतर प्रदेश से पिता जी मैकेनिक हैं।

7 सविता पुनिया गोलकीपर सिरसा जिला से है। किसान की बेटी हैं ।

8 नवनीत कौर शाहाबाद हरियाणा से है पिता जी खेती करते है।

9 निशा वारिस दर्जी की बेटी हैं।

10 नेहा गोयल सोनीपत हरियाणा से है पिता के पास हॉकी जूते दिलाने के लिए पैसे नही थे काफी गरीब परिवार से है।

11 उदिता दुहन हिसार से है पिता जी पुलिस में थे 2015 में मौत हो गई।

12 शर्मिला देवी कौमारी हिसार की रहने वाली हैं ।पिता जी किसान हैं।

13 लाल रेम सियामि मिजोरम की रहने वाली हैं । पिता जी की मौत हो गई हैं।

14 दिप ग्रेस सुंदरगढ़ उड़ीसा की रहने वाली हैं गांव में आज तक पानी बिजली नही हैं।

15 मोनिका मलिक  गांव गामड़ी जिला सोनीपत की रहने वाली हैं ।पहले कुस्ती में हाथ आजमाए फिर हॉकी को पसंद किया।

16 रीना खोखर नयागांव  मोहाली की रहने वाली हैं। पिता जी B S F में हैं ।

इन सभी के जज्बे को सादर नमन 🙏🙏.... राजीव कुमार, विशिष्ट सदस्य, बुंदेलखंड सहयोग परिषद लखनऊ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा