प्रदेश में कोविड संक्रमण अभी समाप्त नहीं हुआ है, इसलिए कोविड प्रोटोकाल का पालन अवश्य करें - अमित मोहन प्रसाद


लखनऊ: 16 अगस्त, 2021
अपर मुख्य सचिव ‘सूचना’ श्री नवनीत सहगल ने बताया कि मुख्यमंत्री जी के 3टी ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट अभियान के साथ आशिंक कोरोना कर्फ्यू तथा टीकाकरण के अभिनव प्रयोग से प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर को नियंत्रित करने में सफलता मिली है। इस अभिनव प्रयोग में कोरोना संक्रमण में निरन्तर कमी आ रही है। प्रदेश में संक्रमण अन्य प्रदेशों की तुलना में न्यूनतम स्तर पर है। उन्होंने बताया कि 3टी के कारण ही 30 अप्रैल, 2021 के एक्टिव मामले 3,10,783 से घटकर 419 हो गये है तथा 30 अप्रैल के प्रतिदिन कोविड केस 38 हजार से घटकर 17 हो गये है। प्रदेश में सक्रिय मामले कम होने पर भी कोविड-19 के टेस्ट करने की संख्या घटाई नहीं जा रही हैं, जबकि 24 घंटे में मात्र 17 संक्रमण के नये केस आये है। प्रदेश में कोविड टीकाकरण का कार्य तेजी से किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि आज एक वृहद टीकाकरण का अभियान चलाया जा रहा है, जिससे 06 करोड़ के लक्ष्य को जल्द से जल्द पूरा किया जाये। उत्तर प्रदेश शीघ्र ही 06 करोड़ लोगों का टीकाकरण करने वाला प्रथम राज्य होगा। प्रदेश में अब तक 92 लाख से अधिक लोगों को कोविड टीकाकरण के दोनों डोज दी जा चुकी है। उन्होंने बताया कि सर्विलांस के माध्यम से सरकारी मशीनरी द्वारा उत्तर प्रदेश की 24 करोड़ की जनसंख्या में से अब तक लगभग 17.24 करोड़ से अधिक लोगों से उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली गई है।
श्री सहगल ने बताया कि मुख्यमंत्री जी द्वारा 19 अगस्त को प्रदेश में ओलम्पिक विजेता खिलाड़ियों एवं चौथे स्थान पर रहने वाली महिला हॉकी टीम व गोल्फ टीम के खिलाड़ियों को सम्मानित किया जायेगा। युवाओं में शिक्षा, स्वालम्बन, कौशल विकास उद्यमिता एवं खेलों के माध्यम से उनके विकास की पूरी योजनाओं को लेकर एक मिशन लांच किया जायेगा। इस मिशन को प्रदेश में तेजी से चलाया जायेगा।
श्री सहगल ने बताया कि आज से प्रदेश में कक्षा-8 से ऊपर की सभी कक्षायें भौतिक रूप से पठन-पाठन का कार्य प्रारम्भ हो गया है। मुख्यमंत्री जी ने सभी छात्र-छात्राओं का अभिनन्दन किया है और साथ-साथ कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने के लिए भी कहा है। उन्होंने कहा कि शहरों में जहां-जहां भी पेयजल की आपूर्ति पाइप लाइनों के माध्यम से की जा रही है उसकी निरन्तर जांच की जा रही है। किसी भी जगह पानी से संबंधित बीमारी न फैले इसका ध्यान रखा जा रहा है और जहां कहीं भी इस प्रकार की घटनाएं हुयी है वहां उनका त्वरित निस्तारण किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार के 09 जनपदों में बन रहे मेडिकल कॉलेजों का निरीक्षण किया जा चुका है। उनके लोकार्पण की त्वरित कार्यवाही की जायेंगी।
श्री सहगल ने बताया कि महिला सुरक्षा, सम्मान और स्वावलम्बन को समर्पित मिशन शक्ति के तीसरे चरण की शुरुआत 21 अगस्त से हो रही है। राजधानी लखनऊ में आयोजित मुख्य समारोह की तर्ज पर सभी जिलों में भव्य कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। स्वाधीनता के अमृत महोत्सव वर्ष को दृष्टिगत रखते हुए इस विशेष अवसर पर कोविड काल में उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिला चिकित्सकों, स्वास्थ्यकर्मियों, महिला स्वयं सहायता समूहों, महिला स्वयंसेवी संगठनों, शिक्षा, महिला सशक्तिकरण आदि के क्षेत्र में महत्वपूर्ण कार्य करने वाली महिलाओं को सम्मानित किया जायेगा।
अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि मुख्यमंत्री जी के निर्देशानुसार प्रदेश में बड़ी संख्या में संक्रमण कम होने के बावजूद, टेस्टिंग कम नहीं की जा रही है। गत एक दिन में कुल 1,89,744 सैम्पल की जांच की गयी है। प्रदेश में अब तक कुल 6,92,84,717 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 17 नये मामले आये हैं। प्रदेश में विगत 24 घंटे में 36 लोग तथा अब तक 16,85,761 लोग कोविड-19 से ठीक हो चुके हैं। प्रदेश में कोविड से ठीक होने वाले का प्रतिशत 98.6 हैं। प्रदेश में कोरोना के कुल 419 एक्टिव मामले हैं तथा 294 लोग होम आइसोलेशन में है।
श्री प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में सर्विलांस एवं कोविड वैक्सीनेशन का कार्य निरन्तर किया जा रहा है। प्रदेश में अब तक कुल 5,74,39,073 डोज लगायी गयी हैं। उन्होंने बताया कि आज टीकाकरण का एक वृहद अभियान चलाया जा रहा है। अभी तक प्राप्त सूचना के अनुसार 11 लाख से अधिक लोगों का टीकाकरण आज किया गया है। उन्होंने बताया कि टीकाकरण का कार्य लोगों को सुरक्षा कवच प्रदान करने के लिए किया जा रहा है, जिससे बाद में कोई जटिलता न आये। ऐसा पाया गया है कि जो लोग टीका लगवा चुके है उनमें कोविड पॉजिटिव होने के बावजूद भी किसी प्रकार की जटिलता नहीं आयी है। प्रदेश में आज से कक्षा-8 से ऊपर की कक्षाओं में भौतिक रूप से पठन-पाठन का कार्य प्रारम्भ हो रहा है। उन्होंने कहा कि सभी विद्यालयों में कोविड प्रोटोकाल का पालन किया जाये। प्रदेश में कोविड संक्रमण अभी समाप्त नहीं हुआ है। इसलिए कोविड प्रोटोकाल का पालन अवश्य करें।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा