विश्व आदिवासी दिवस को हर्षोल्लास से मनाया

 लखनऊ 09 अगस्त 2021, भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित जनजाति मोर्चा द्वारा भाजपा प्रदेश मुख्यालय में विश्व आदिवासी दिवस को हर्षोल्लास से मनाया गया।

भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा, के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय गोंड ने कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए विश्व आदिवासी दिवस की महत्ता व इतिहास के बारे में चर्चा की। उन्होंने कहा कि 1994 में संयुक्त राष्ट्र संघ के जेनेवा में हुए अधिवेशन में 9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस के रूप में मनाने का निर्णय पारित हुआ और तब से प्रत्येक वर्ष 9 अगस्त को वैश्विक स्तर पर विश्व आदिवासी दिवस मनाया जाता है। विश्व में आदिवासियों की जनसंख्या लगभग 37 करोड़ है जिनमें 5000 से अभी अधिक अलग-अलग समुदाय है और उनके द्वारा 7000 से भी अधिक भाषाएं बोली जाती है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी एवं मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी लगातार अपनी योजनाओं एवं निर्णयों से आदिवासी एवं गिरिवासी समाज के आर्थिक व सामाजिक उत्थान के लिए कार्य कर रहे है।
मुख्य अतिथि के रूप में कमल ज्योति के प्रबंध संपादक राजकुमार जी रहे और अपने ओजस्वी भाषण में उन्होंने भारत में आदिवासियों के वर्तमान स्थिति के बारे में और रानी दुर्गावती, बिरसा मुंडा  व अन्य आदिवासी क्रांतिकारियों के बारे में बताया।
कार्यक्रम का संचालन भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चे के प्रदेश कोषाध्यक्ष श्री शिवकुमार गोंड जी ने किया। मोर्चे के प्रदेश महामंत्री विद्या भूषण गोंड ने धन्यवाद ज्ञापन दिया। कार्यक्रम के उपरांत कार्यालय परिसर में वृक्षारोपण भी कियक गया। इस अवसर पर भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चे के पदाधिकारी जितेंद्र गोंड, संतोष कश्यप, शैलेन्द्र गोंड, विनोद खरवार, मनोज गोंड, फूलचंद गोंड, राहुल थारू, शैलेश कंजर, राजीव चंद्रा तथा अन्य कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा