किसान मोर्चा उत्तर प्रदेश की नवनियुक्त प्रदेश कमेटी की बैठक


लखनऊ 09 अगस्त 2021, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश मुख्यालय पर किसान मोर्चा उत्तर प्रदेश की नवनियुक्त प्रदेश कमेटी की बैठक सम्मन्न हुई। बैठक में मुख्य रूप से भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री स्वतंत्र देव सिंह जी व प्रदेश महामंत्री संगठन श्री सुनील बंसल जी रहे।
जैसा की भारत कृषि तथा कृषि प्रधान देश है। किसान देश का अन्न दाता है। आज कुछ विदेश ऐजेन्सियां तथा कुछ विरोधी दलों के लोग देश के किसानों को गुमराह कर देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी बदनाम करने का कुत्सित प्रयास कर रहे है। ऐसी परिस्थिति में किसान मोर्चा के कार्यकर्ताओं का दायित्व बढ जाता है। उक्त उद्गार भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष श्री स्वतंत्र देव सिंह ने किसान मोर्चो के नवगठित प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक में व्यक्त किये। श्री स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि स्वतंत्रा के बाद आजतक कभी भी चार वर्षों में  1 लाख 40 हजार करोड़ रूपये का गन्ना मूल्य भुगतान सिर्फ योगी सरकार में ही हुआ है। योगी सरकार में ही मायावती व अखिलेश के समय 10 वर्षो में जितनी खाद्यानों की खरीददारी किसानों से हुई थी उसे डेढ़ गुना अधिक लगभग 66 हजार करोड़ रूपए की खाद्यन्य की खरीददारी योगी सरकार में हुई है। योगी सरकार में ही कृषक दुर्घटना बीमा, किसानों को निःशुल्क कृषि यंत्रों का वितरण, सिचाई हेतु नहरों के टेल तक सिल्ट सफाई कर पानी पहुंचाना। 24 घंटे बिजली पहुंचाना, कोरोना काल में सर्वाधिक निःशुल्क खाद्यानों का वितरण कराना आदि ऐसे अनेक जन व किसान के कल्याणकारी योजनाओं को लांच करके योगी सरकार किसानों के उत्थान के लिए काम कर रही है। प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक को सम्बोधित करते हुए महामंत्री श्री सुनील बंसल जी ने कहा कि कोविड के कारण कार्यकर्ताओं को काम करने का समय कम मिला है। कम समय में संयोजित तरीके से हमें अपने संगठन का  विस्तार करना है। सितम्बर तक जिला कार्यसमिति मण्डल, कार्य समिति तथा सभी गांवों में किसानों की समितियां बना लेनी है। किसान मोर्चा के कार्यकर्ता ग्राम स्तर पर सक्रिय होकर किसान सम्पर्क, किसान संवाद तथा किसान सबंध के माध्यम से प्रदेश के सभी किसानों को भारतीय जनता पार्टी से जोड़ने का काम करना है। बैठक को सम्बोधित करते हुए भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्री कामेश्वर सिंह जी ने कहा कि जब देश अपनी आजादी का 75वीं वर्ष गंाठ मनायें तब तक सभी किसानों की आय दुगुनी हो जाय, उसके लिए आदरणीय मोदी जी व योगी जी की सरकार कृत संकल्पित है। कम लागत पर अधिक उत्पाद करने हेतु अनेक प्रकार की योजनाऐं केन्द्र व प्रदेश सरकार ने लागू की है जिसकी जानकारी किसान मोर्चा के कार्यकर्ता एक अभियान किसानों को देने का काम करें। श्री सिंह ने कहा कि 16 अगस्त से लेकर 23 अगस्त गन्ना बाहुल्य विधानसभाओं में व्यापक संवाद का कार्यक्रम चलाएगें। वहीं दूसरी तरफ 25 अगस्त के आस-पास लखनऊ में किसानों की बडी बैठक होगी। वहीं दूसरी तरफ 5 से 10 सितम्बर के बीच मेरठ में किसान सम्मेलन आयोजित होगा तथा उसी समय चित्रकूट में सितम्बर में प्रदेश किसान मोर्चा की प्रदेश कार्यसमिति बैठक सम्पन्न होगी। उक्त कार्यक्रमों के माध्यम से किसान मोर्चा के कार्यकर्ता सक्रिय होकर और किसानों को अपने से जोडकर 350 से अधिक सीट दिलाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निवर्हन करेगें।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा