देश की अखण्डता और एकता के लिए राजीव जी ने अपने आपको बलिदान किया- धीरज गुर्जर

 


भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्व0 राजीव गांधी जी की 77वीं जयन्ती पूरे प्रदेश में मनाई गई।


ऽ राजीव जी ने देश को सूचना क्रांति और प्रोद्योगिकी के माध्यम से दुनिया में प्रतिस्पर्धा करने लायक बनाया-  धीरज गुर्जर



लखनऊ 20 अगस्त, 2021
भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्व0 राजीव गांधी जी की 77वीं जयन्ती के अवसर पर आज पूरे प्रदेश में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये गये। राजधानी लखनऊ में उ0प्र0 कांग्रेस कमेटी कार्यालय पर अ0भा0 कांग्रेस कमेटी के सचिव श्री धीरज गुर्जर जी एवं श्री सचिन नायक जी मौजूद रहें। अ0भा0 कांग्रेस कमेटी के सचिव श्री धीरज गुर्जर जी ने कालीदास मार्ग स्थित राजीव जी की प्रतिमा एवं माल एवेन्यू स्थित प्रदेश कांग्रेस कमेटी चौराहे पर राजीव जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया।
उ0प्र0 कांग्रेस कमेटी मुख्यालय में आयोजित संगोष्ठी को सम्बोधित करते हुए श्री गुर्जर जी ने कहा कि आज हम जिस महान नेता के जयन्ती पर स्मरण कर रहे है उन्होंने देश की एकता और अखण्डता के लिए अपने आपको बलिदान किया। इसके पहले एक दशक से कम समय में उन्होंने भारतीय राजनीति की सशक्तीकरण के लिए और समाज के उन्नयन के लिए कई ऐतिहासिक कार्य किये। एक तरफ जहां उन्होने सूचना क्रान्ति और प्रोधोगिकी के माध्यम से भारत को दुनिया से प्रतिस्पर्धा करने लायक बनाया वहीं लाईसेन्स राज खतम करके सुदृढ़ आर्थिक उदारीकरण की शुरुवात की। उच्च शिक्षा के विकास के साथ-साथ वंचित और शोषित वर्ग के बच्चे बेहतर शिक्षा प्राप्त कर सके इसके लिए पूरे देश में नवोदय विधालय की श्रंृखला बनाई। महिला सशक्तीकरण में उनके प्रयास का नतीजा था कि आज 14 लाख महिलायें स्थानीय निकाय और पंचायतों में निर्वाचित पदों पर काम कर रही है। उनके द्वारा देश में लाई गयी सूचना क्रांति जिसमें डेढ़ करोड़ पी0सी0ओ0 की स्थापना हुई, जिसमें सीधे करोड़ों लोगों को रोजगार मिला था। 18 वर्ष का मताधिकार राजीव जी की ही देन है। यह वह भूमिकायें है जो राजीव जी को देश के महानतम नेताओं में शुमार करती है। हमें गर्व है कि हम ऐसे नेतृत्व में काम कर रहे है जिनकी देश बनाने की महान परम्परा है। उन्होनें मौजूदा राजनैतिक परिस्थितियों पर कहा की कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पूरी दृढ़ता के साथ अपने विचारों को रखना होगा। लोग राष्ट्रवाद के नारे लगाते है वोट के लिए लेकिन हमारी पार्टी की पूरी श्रंृखला नें इस राष्ट्र को बनाने व मजबूत करने में अपने प्राणों का उत्सर्ग किया। सभी कार्यकर्ताओं को पूरी ताकत और भरोसे के साथ सरकार की झूठी राजनीति का विरोध करना है।
संगोष्ठी में मुख्य रुप से पूर्व विधायक श्री श्याम किशोर शुक्ला जी, पूर्व विधायक श्री सतीश अजमानी जी, श्री आंेकार नाथ जी, श्री अशोक सिंह जी, श्री सचिन रावत जी, श्री देवेन्द्र प्रताप सिंह जी, श्री मुकेश सिंह चौहान जी, श्री बृजेश सिंह जी, श्री मो0 नासिर जी, श्री सुशील तिवारी सोनू पंडित जी, श्रीमती वंदना सिंह जी, श्रीमती शीला मिश्रा जी, श्री तनुज तिवारी, श्री अंकित सक्सेना, श्री के0के0 शुक्ला, श्री रमेश मिश्रा, श्री राजेन्द्र पाण्डे, श्री सच्चिदानन्द नाथ आदि सहित सैकड़ों की संख्या में कांग्रेसजन मौजूद थे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा