दिल्ली के बाद अब मुंबई से सीधे जुड़ गया बरेली

 प्रधानमंत्री की उड़ान योजना के साथ बरेली भी भर रहा उड़ानः नन्दी


14 अगस्त से बेंगलुरु के लिए भी शुरू हो रही सीधी उड़ान
एयर कनेक्टिविटी बढ़ने से शिक्षा, रोजगार, उद्योग एवं पर्यटन की नई संभावनाओं का होगा विस्तार
लखनऊः 13 अगस्त 2021
उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण, वक्फ एवं हज, राजनैतिक एवं नागरिक उड्डयन मंत्री श्री नन्द गोपाल गुप्ता ‘नन्दी‘ ने गुरुवार को बरेली से मुंबई के लिए शुरू हुई हवाई उड़ान सेवा का शुभारंभ किया। मंत्री नन्दी ने एयरपोर्ट पर आयोजित समारोह में यात्रियों को बोर्डिंग पास देकर हवाई यात्रा की शुभकामनाएं दी।
श्री नंदी ने कहा कि मुख्यमंत्री का सपना था कि हवाई चप्पल पहनने वाला भी हवाई जहाज की यात्रा करे, उनका यह सपना अब पूरा हो रहा है। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में केवल दो एयरपोर्ट संचालित थे। अब मौजूदा स्थिति में आठ एयरपोर्ट संचालित हैं। उन्होंने कहा जब सरकार बनी तो पूरे प्रदेश में केवल 24 जगहों के लिए उड़ान थी, मगर आज 72 जगहों के लिए उड़ान है।
श्री नंदी ने कहा कि जब पूरे भारत के लिए 25 एयरपोर्ट चयनित हुए थे तो उसमें से केवल नौ एयरपोर्ट उत्तर प्रदेश के लिए चयनित किए गए। इससे साफ है कि अब उत्तर प्रदेश हवाई यात्रा में नंबर एक पर चल रहा है। उन्होंने कहा कि बरेली उत्तराखंड के समीप है, हवाई सेवाएं बरेली को देश से ही नहीं जोड़ेंगी, बल्कि देश को बरेली के साथ नैनीताल, कुमाऊ, रानीखेत से जोड़ेगा, जिससे पर्यटन की संभावनाएं बढ़ेंगी। उन्होंने कहा कि 14 अगस्त से इंडिगो बेंगलुरु की भी फ्लाइट शुरू कर रहा है, जिससे हफ्ते में तीन दिन हवाई यात्रा की सुविधा मिलेगी।
उन्होंने कहा कि मुंबई से फ्लाइट आने के बाद बरेली एयरपोर्ट पर कार्यक्रम की शुरूआत की गई, जिसमें वर्चुअल माध्यम से दिल्ली से केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, बरेली से सांसद संतोष गंगवार, शामिल हुए।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा