पत्रकारों से अभद्रता बर्दाश्त नहीं की जाएगी: प्रेस क्लब

                 पत्रकारों से अभद्रता बर्दाश्त नहीं की जाएगी: प्रेस क्लब



मुख्यमंत्री को संबोधित जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन
ललितपुर इण्टर मीडिएट के छात्र अंकतालिका में अंक प्रदर्शित नहीं होने की वजह से अपनी मांग को लेकर राजकीय इण्टर कॉलेजमे धरना प्रदर्शन कर रहे छात्रों पर हुए लाठीचार्ज की सूचना पर पहुंचे पत्रकारों से कवरेज को लेकर अपर पुलिस अधीक्षक गिरिजेश कुमार द्वारा किये गए अभद्र व्यवहार से असंतुष्ट प्रेस क्लब के पत्रकारों पुलिस के खिलाफ नारेबाजी कर प्रदर्शन करते हुए प्रेस क्लब ने मुख्यमंत्री को संबोधित जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा।प्रेस क्लब के वरिष्ठ उपाध्यक्ष विजय जैन कल्लू ने जिलाधिकारी अन्नावि दिनेश कुमार को बताया कि छात्रों के द्वारा अपनी जायज मांग को लेकर धरना दिया जा रहा था लेकिन पुलिस ने छात्रों पर बर्बरता दिखाते हुए लाठीचार्ज किया साथ कवरेज करने गए पत्रकारों से भी अपर पुलिस अधीक्षक गिरजेश कुमार द्वारा अभद्र व्यवहार किया गया जिसे पत्रकार बर्दास्त नहीं करेंगे उन्होंने जिलाधिकारी से छात्रों के भविष्य के साथ खिलबाड़ करने वाले जिम्मीदरों के विरुद्ध करवाही करते हुए छात्रों की अंकतालिका में अंक प्रदर्शित करने व अपर पुलिस अधीक्षक के खिलाफ भी करवाई करने की मांग की। इसी दौरान जनपद से बाहर होने की वजह से प्रेस क्लब अध्यक्ष राजीव बबले सप्पू ने वीडियो कॉल के माध्यम से पत्रकारों और जिलाधिकारी से बात करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक के रवैये की निंदा करते हुए उन पर कारवाई की मांग की। जिस पर जिलाधिकारी ने बताया कि सभी मामलों की जांच के लिए तीन सदस्यीय कमेटी का गठन कर दिया गया है।कमेटी को तीन दिन में  जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने का आदेश दिया गया गया है।जिलाधिकारी ने कहा कि रिपोर्ट आने पर जो दोषी पाया जाएगा उसके विरुद्ध कारवाई की जाएगी। ज्ञापन सौंपने के बाद कलेक्ट्रेट परिसर ने वरिष्ठ उपाध्यक्ष विजय जैन कल्लू ने पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए कहा कि तीन दिन बाद अगर अपर पुलिस अधीक्षक के खिलाफ कोई उचित कारवाई नहीं कि गई तो प्रेस क्लब व्यापक स्तर पर आंदोलन करेगा। तत्पश्चात उत्तर प्रदेश शासन के राज्य मंत्री मनोहर लाल पंथ मन्नू कोरी में प्रेस क्लब आकर पत्रकारों की पीड़ा से अवगत होते हुए आश्वासन दिया कि वह मुख्यमंत्री तक यह मामला पहुंचाने का प्रयास करेंगे इसके बाद पत्रकारों ने सदर विधायक रामरतन कुशवाहा को घंटाघर पर स्थित एक कार्यक्रम में पहुंचकर ज्ञापन दिया और उचित कार्रवाई की मांग की सदर विधायक व मंत्री ने भरोसा दिलाया कि योगी और मोदी सरकार का कहना है कि किसी पत्रकार के खिलाफ किसी प्रकार की अभद्रता की गई तो सख्त कारवाई की जाएगी। अंत में प्रेस क्लब के महामंत्री अंतिम जैन अंतू ने सभी पत्रकारों का आभार व्यक्त किया। इस मौके पर संरक्षक सुरेंद्र नारयण शर्मा, संतोष शर्मा, मंजीत सलूजा, डा.संजीव बजाज, पूर्व महामंत्री मो.नसीम, सत्येंद्र सिंह सिसोदिया, रवि चुनगी, सरदार हरवीर सिंह, सुनील शर्मा, नीरज, मनोज वैद्य, अजीत भारती, अवरार अली, संजीव नामदेव, अमित सोनी, अभय श्रीमाली, शैलेन्द जैन, बृजकिशोर सिंह, संजय ताम्रकार, राहुल जैन, प्रबोध तिवारी, मुहम्मद नसीम, अमित लखेरा, अजित भारती, जयेश बादल, जावेद अली, शैलेश जैन, धु्रव सिंह सिसौदिया, यशपाल सिंह, दिनेश कुमार संज्ञा, रवि शंकर सेन, विकास त्रिपाठी, शैलेश गौतम, सुनेन्द्र सिंह यादव, सच्चानंद गोलवानी, विजय कुमार उपाध्याय, रविन्द्र कुमार सेन, बृजेश पंथ, संदीप शर्मा, अनूप मोदी, वीरेन्द्र कुमार पुरोहित, बृजेश तिवारी, विनोद कुमार मिश्रा, प्रशांत तिवारी, शुभम पस्तोर, अमित जैन मोनू, महेश प्रसाद मिश्रा, राहुल साहू, के पी  यादव, नासिर मीडिया, आरिफ मुहम्मद खान, सुनील सैनी, संतोष कश्यप, इमारन खाँ, इमरान मंसूरी, सौरभ गोस्वामी, मनोज जैन, निहाल सेन, प्रशन्न दुबे, नीलेश पटेल, राममूर्ति तिवारी, प्रभात शर्मा, अमर प्रताप सिंह, वैभव जैन,राहुल जैन, कलरैया, पंकज मालवीय, देवेन्द्र पाठक, हरीशंकर अहिरवार, अजय वरया, अशोक सेन, नीतेश कुमार जैन, अशोक कुमार तिवारी, आशीष पाण्डेय, कमलेश साहू, जावेद खां, विनोद त्रिपाठी, दीपक सोनी, नितिल गिरी, अमित पाण्डेय, अनूप सेन, अशोक गोस्वामी, रिजवान उज्जमा, संजीब सोनी, कृष्णकांत सोनी, अक्षय दिवाकर, पूजा कश्यप, अभिषेक बुन्देला, संदीप यादव, राहुल चौबे, प्रवीण राठौर सिब्बू, नसीमउद्दीन कुरैशी, अजय कश्यप, अक्षय अलया, सरदार जशपाल सिंह बंटी, विभाकंत हुंडैत, मकरंद किलेदार, माधव सिंह, विनीत चतुर्वेदी, विपुल जैन,अजय जैन, विनोद सुड़ेले, रूपेश जैन, कृष्णविहारी उपाध्याय, अविनाश त्रिपाठी, मनीष चुतर्वेदी, अनूप राठौर, अमित लखेरा, गौरव जैन, घनश्याम सेन, सम्राट बनाफर, राहुल शुक्ला, मनीष जैन, नरेन्द्र चन्देल, पंकज रैकवार, सोहिव खान, संभव सिंघई, मनीष सोनी, सुमित रैकवार, लकी चौधरी, सुनील जैन, प्रबोध नारायण तिवारी, अशफाक कुरैशी, हिमाशुं सुड़ेले, पवन संज्ञा, आलोक खरे, अमित संज्ञा, अभिषेक सैनी, मुहम्मद समीम, आशिफ अली, नवीन जैन, अर्पित जैन, अश्वनी पुरोहित, नाजिर बेग, भगवत नारायण श्रोती, अजय कुमार जैन, प्रकाश नारायण सेन, महेश सेन, संजय जैन, महेश वर्मा, रोहित सेन, मनीष श्रीमाली, राहुल सिंह तोमर, रामकुमार, वैष्णव, लक्ष्मीनारायण विश्वकर्मा, धनीराम राजपूत, अजय श्रीवास्तव, रमन शर्मा, शत्रुधन शुक्ला, राहुल किशोर, मनीष जैन, कपिल नायक,ऋषि साहू, देवेन्द्र साहू, बृजमोहन दुवे, मनीष अरोरा, कुन्दन पाल, आदित्य शर्मा, आलोक चौबे, पवन प्रताप सिंह, अर्जुन झाँ, पुष्पा झाँ, अनूप नागल, विश्वनाथ पटेल, अनूप मोदी, अंनत कुमार सर्राफ, अनूप  कुमार ताम्रकार, प्रमोद आदि मौजूद रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि