कार खरीदने के बाद नहीं दिये कागजात, सपा की पूर्व जिलाध्यक्ष ने एसपी से की शिकायत



पीडि़त महिला ने उठाई जांच कर इंसाफ दिलाने की मांग

ललितपुर। समाजवादी पार्टी की वरिष्ठ महिला नेता द्वारा एक प्रख्यात कम्पनी द्वारा कार खरीदने के बाद एजेंसी संचालक द्वारा रजिस्ट्रेशन, सेल लैटर इत्यादि न देते हुये कार भी रख लेने का आरोप लगाया गया है। इस मामले में शुक्रवार को समावजादी पार्टी की पूर्व जिलाध्यक्ष ज्योति सिंह लोधी ने कार्यकर्ताओं के साथ एकजुट होकर पुलिस अधीक्षक निखिल पाठक को एक ज्ञापन सौंपते हुये पूरे मामले की निष्पक्ष जांच करायी जाकर महिला को न्याय दिलाये जाने की मांग उठायी है।

शिकायती पत्र में बताया गया है कि गांधीनगर निवासी गीता मिश्रा जो कि समाजवादी पार्टी की वरिष्ठ नेता हैं ने 26 फरवरी 2016 को फीगो फोर्ट के की कार खरीदी थी। जिसकी उन्होंने कंपनी को किश्तों में 80 हजार रुपये, 40 हजार रुपये, 50 हजार रुपये, 1 लाख रुपये व 4.10 लाख रुपये महेन्दा फाईनेन्स द्वारा अदा कर दिया गया। बताया कि कम्पनी द्वारा उन्हें कार दे दी गयी। लेकिन कम्पनी द्वारा रजिस्ट्रेशन व सेल लेटर नहीं दिया गया। बताया कि वह 28 जनवरी 2017 को दतिया से लौट रहीं थी कि तभी ग्राम असऊपरा के निकट उनकी गाड़ी का टायर फट गया और गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो गयी। जिसके बाद उन्होंने कम्पनी फोन किया, जिस पर कुछ दिनों बाद कंपनी वाले कार को ले गये। बताया कि तब से वह कार वापस लेने एवं रजिस्ट्रेशन और सेल लैटर के लिए चक्कर काट रहीं है। बताया कि 30 जुलाई 2021 को अपराह्न 12 बजे जब वह मोहल्ला आजादपुरा निवासी दीनदयाल सोलंकी, कसाई मण्डी निवासी द्रोपती अहिरवार के साथ कम्पनी के शोरूम पहुंची तो वहां मौजूद अजय द्विवेदी, मु.रफीक, साजिद खां नाम के युवकों ने उनके साथ अभद्र व्यवहार करते हुये गाली-गलौच की। आरोप है कि जान से मारने की धमकी देते हुये गाड़ी, कागजात इत्यादि देने से इंकार कर दिया। मामले में उन्होंने जांच करायी जाकर रजिस्ट्रेशन, सेल लेटर व कार वापस दिलाये जाने की मांग उठायी है। ज्ञापन देते समय पूर्व जिलाध्यक्ष ज्योति सिंह लोधी, शिक्षक सभा जिलाध्यक्ष विजय सिंह यादव, गिरधारी यादव, शत्रुघन यादव, हनुमत सिंह, परवेज पठान, महेन्द्र कुमार, मु.निजाम शाह, निहाल सिंह आदि मौजूद रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा