‘‘अप्रेन्टिस्शिप मेला‘‘ के सफल आयोजन हेतु उ0प्र0 कौशल विकास मिशन द्वारा 1.00 लाख रुपये की धनराशि प्रत्येक जनपद को प्रदान की गई- कुणाल सिल्कू,निदेशक




लखनऊः 01 अक्टूबर 2021  


प्रदेश सरकार द्वारा 04 अक्टूबर, 2021 को प्रदेश के समस्त जनपदों के नोडल राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में एम0एस0एम0ई0 व निर्यात प्रोत्साहन विभाग तथा व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग द्वारा संयुक्त रुप से ‘‘अप्रेन्टिस्शिप मेला‘‘ आयोजित किया जा रहा है।
प्रदेश में ‘‘अप्रेन्टिस्शिप मेला‘‘ के सफल आयोजन हेतु विभिन्न दिशा-निर्देश श्री नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव, एम0एस0एम0ई0 व निर्यात प्रोत्साहन विभाग तथा श्री आलोक कुमार, सचिव, व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग, उ0प्र0 शासन द्वारा निर्गत किये गये हैं। ‘‘अप्रेन्टिस्शिप मेला‘‘ का मुख्य उद्देश्य उद्योगों व एम0एस0एम0ई0 के माध्यम से प्रदेश के युवाओं को प्रैक्टिकल टेªनिंग प्रदान किया जाना है। प्रदेश में लगभग 2.00 लाख उद्योग व एम0एस0एम0ई0 इकाईयां संचालित हो रही हैं तथा उनमें से लगभग 1.50 अप्रेन्टिस एक्ट, 1961 से आच्छादित हैं। प्रत्येक इकाई एक युवा को अप्रेन्टिस के रुप में प्रशिक्षण हेतु योजित करे, तो प्रति वर्ष प्रदेश के 1.50 युवा उद्योगों में कार्य करने के लिये दक्ष हो जायेंगे। उद्योग व एम0एस0एम0ई0 द्वारा युवाओं को अप्रेन्टिस के रुप में रखे जाने पर प्रदेश सरकार द्वारा रु0 2500 प्रतिमाह की प्रोत्साहन धनराशि प्रदान की जा रही है। इसके साथ-साथ युवाओं के अप्रेन्टिस करने का लाभ उद्योग व एम0एस0एम0ई0 को इस प्रकार से मिलेगा कि उन्हे अपने लिये अधिक से अधिक संख्या में दक्ष/कुशल कारागर सुगमतता से मिलेंगे।
‘‘अप्रेन्टिस्शिप मेला‘‘ के सफल आयोजन हेतु दोनों ही विभागों द्वारा उद्योग व एम0एस0एम0ई0 के साथ समन्वय स्थापित किया गया है, जिसके परिणामस्वरुप अप्रेन्टिस के पोर्टल पर माह सितम्बर, 2021 के अंत तक लगभग 18 हजार रिक्तियां उद्योग व एम0एस0एम0ई0 द्वारा युवाओं हेतु उपलब्ध कराई गयी हैं। श्री कुणाल सिल्कू, निदेशक, प्रशिक्षण एवं सेवायोजन, उ0प्र0 द्वारा अवगत कराया गया कि ‘‘अप्रेन्टिस्शिप मेला‘‘ के सफल आयोजन हेतु व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग द्वारा वृहद् प्रचार-प्रसार कराया जा रहा है। उन्होने युवाओं से आवाह्न किया कि वे 04 अक्टूबर के ‘‘अप्रेन्टिस्शिप मेला‘‘ में बढ़-चढ़ कर प्रतिभाग करें। श्री कुणाल सिल्कू ने यह भी बताया कि ‘‘अप्रेन्टिस्शिप मेला‘‘ के सफल आयोजन हेतु उ0प्र0 कौशल विकास मिशन द्वारा रु0 1.00 लाख की धनराशि प्रत्येक जनपद को प्रदान की गई है।
श्री आलोक कुमार, सचिव, व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग, उ0प्र0 शासन ने बताया कि ‘‘अप्रेन्टिस्शिप मेला‘‘ के सफल आयोजन हेतु प्रत्येक जनपद के जिलाधिकारी को निर्देश दिये गये हैं। श्री आलोक कुमार ने यह भी बताया कि विभाग द्वारा युवाओं को अप्रेन्टिस्शिप से जोड़ने का निरन्तर रुप से प्रयास किया जायेगा तथा उन्होने उद्योगों व एम0एस0एम0ई0 से अपील की है कि वे अपने उद्योगों/इकाईयों में अधिक से अधिक युवाओं को अप्रेन्टिस करायें।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

पौष्टिकता से भरपूर: चंद्रशूर