मुख्यमंत्री ने जनपद गोरखपुर में नगर निगम की 142 करोड़ रु0 की लागत की कुल 358 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया





मुख्यमंत्री ने 38.22 करोड़ रु0 की लागत से गोरखपुर विकास
प्राधिकरण द्वारा निर्मित मल्टीस्टोरी पार्किंग का षुभारम्भ किया

मुख्यमंत्री द्वारा 11 सफाईकर्मी सम्मानित, प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के
21 लाभार्थियों को आवास की चाभी तथा प्रमाण पत्र वितरित किए

विकास की गति एक नए गोरखपुर की परिकल्पना को साकार कर रही

विकास की सोच ने ही गोरखपुर को आज राष्ट्रीय व
अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर एक नई पहचान दिलायी

गोरखपुर में फर्टिलाइजर कारखाने एवं एम्स का कार्य लगभग पूरा हो
चुका, अगले महीने प्रधानमंत्री जी इन दोनो प्रोजेक्ट का लोकार्पण करेंगे

प्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत अब तक ग्रामीण व शहरी
क्षेत्र के 43 लाख लोगों को एक-एक आवास उपलब्ध कराया गया,
43 लाख परिवारों को आर्थिक स्वावलम्बन की ओर अग्रसर किया गया

केन्द्र सरकार की विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन में उ0प्र0 का देश में अग्रणी स्थान

केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा संचालित तमाम योजनाएं
आम नागरिक के जीवन में परिर्वतन ला सकती हैं

प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के अन्तर्गत स्ट्रीट वेण्डर्स के व्यवस्थित
पुनर्वास के साथ ही उन्हे बैंकों से जोड़ने कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा

मुख्यमंत्री ने कार्यों को समयबद्ध ढंग से पूर्ण करने
के साथ ही इनकी गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए

लखनऊ: 24 अक्टूबर, 2021

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज जनपद गोरखपुर में पं0 दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विष्वविद्यालय प्रांगण में नगर निगम की 142 करोड़ रुपए की लागत की कुल 358 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। इनमें कुल 319 परियोजनाओं का शिलान्यास तथा 39 परियोजनाओं का लोकार्पण शामिल हैं। इसके अतिरिक्त, मुख्यमंत्री जी ने 38.22 करोड़ रुपए की लागत से गोरखपुर विकास प्राधिकरण द्वारा निर्मित मल्टीस्टोरी पार्किंग का शुभारम्भ भी किया। इस अवसर पर उन्होंने नगर निगम के 51 सफाईकर्मियों को सम्मानित किया गया। इनमें से 11 सफाई कर्मियों को मुख्यमंत्री जी ने सम्मानित किया। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के 21 लाभार्थियों को आवास की चाभी तथा प्रमाण पत्र वितरित किए।
 
इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि विकास एक सामूहिक प्रयास का परिणाम है। सरकार, प्रशासन एवं कर्मचारी सभी लोग एक साथ प्रयास करते हैं, तो विकास देखने को मिलता है। विकास की गति एक नए गोरखपुर की परिकल्पना को साकार कर रही है। विकास के कार्य ही प्रत्येक नागरिक के जीवन में परिर्वतन लाएगा। विकास की सोच ने ही गोरखपुर को आज राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर एक नई पहचान दिलायी है। गोरखपुर आज दुनिया के लिए विकास की एक नई पहचान बना है। गोरखपुर में फर्टिलाइजर कारखाना एवं एम्स का कार्य लगभग पूरा हो चुका है, अगले महीने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी इन दोनो प्रोजेक्ट का लोकार्पण करेंगे। प्रधानमंत्री जी गोरखपुर और पूर्वी उ0प्र0 को 1,000 करोड़ रुपए की परियोजनाओ की सौगात देंगे।
 
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि वॉटर स्पोर्ट्स के नए कॉम्प्लेक्स के बनने से गोरखपुर में पर्यटकों को आकर्षित करने में सहायता मिलेगी। इन सुविधाओं के विकास से यहां के नौजवानों के लिए उस क्षेत्र में आगे बढ़ने हेतु कई सम्भावनाएं भी बढ़ेंगी। 10 वर्ष पूर्व, बी0आर0डी0 मेडिकल कॉलेज जर्जर हालत में था, आज बी0आर0डी0 मेडिकल कॉलेज अत्याधुनिक सुविधाआंे से युक्त हो चुका है। कोरोना काल खण्ड में पूर्वी उ0प्र0 के लोगों के जीवन देने वाले मेडिकल कॉलेज के रूप में इस संस्थान ने एक बार फिर बाबा राघवदास की स्मृति को ताजा करवा दिया। गोरखपुर में सड़कों के चौड़ीकरण का कार्य तेजी से किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि केन्द्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ हर एक नागरिक को बिना भेदभाव के मिल रहा है। उन्होंने कहा कि उन कोरोना वॉरियर्स का अभिनन्दन करना चाहिए, जिन्होंने अपनी जान की परवाह किए बगैर कोरोना महामारी के दौरान दूसरों की जान बचायी। इस कार्य में सफाई कर्मी एक मजबूत स्तम्भ बनकर उभरे हैं। आंगनबाड़ी हो या आशा वर्कर, जनता-जनार्दन सहित सभी ने अपने स्तर पर प्रयास किए, जिनका परिणाम है कि आज गोरखपुर कोरोना महामारी से मुक्ति की ओर है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में 12 करोड़ 60 लाख से अधिक कोरोना वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है। उ0प्र0 अब किसी मामले में कमजोर नहीं है। उ0प्र0 देष का अग्रणी राज्य है और इसी सोच के साथ आगे बढ़ने का कार्य कर रहा है। प्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत अब तक ग्रामीण व शहरी क्षेत्र के 43 लाख लोगों को एक-एक आवास उपलब्ध कराया गया है। 43 लाख परिवारों को आर्थिक स्वावलम्बन की ओर अग्रसर किया गया है। यही कारण है कि केन्द्र सरकार की विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन में उत्तर प्रदेश का देश में अग्रणी स्थान है। साथ ही, 44 ऐसी परियोजनाएं हैं, जिसमें उ0प्र0 प्रथम स्थान पर है।  

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा संचालित तमाम योजनाएं आम नागरिक के जीवन में परिर्वतन ला सकती हैं। गोरखपुर में 25 इलेक्ट्रिक बसें चालू की गयी हैैं। प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के अन्तर्गत स्ट्रीट वेण्डर्स के व्यवस्थित पुनर्वास के साथ ही उन्हे बैंकांे से जोड़ने कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है। विकास को प्रमुखता से आगे बढ़ाने की आवश्यकता है। गोरखपुर में विद्युत के लटके हुए तार के समाधान के लिए धनराशि आवंटन किया जा चुका है। उन्होंने निर्देश दिए कि पावर कॉरपोरेशन तथा जिला प्रषासन इसकी समीक्षा करके समयबद्ध ढंग से इस कार्य को पूरा करें। उपभोक्ताओं की विद्युत सम्बन्धाी समस्याओं का स्थायी समाधान कराया जाए। उन्होंने कार्यों को समयबद्ध ढंग से पूर्ण करने के साथ ही इनकी गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने के निर्देश देते हुए कहा कि महानगर में जल-जमाव से निजात दिलाने हेतु स्थायी कार्ययोजना तैयार की जाए जिससे यहां जल-जमाव की स्थिति को समाप्त किया जा सके।
 
इसके उपरान्त, मुख्यमंत्री जी ने जी0डी0ए0 द्वारा निर्मित मल्टीस्टोरी पार्किंग का अवलोकन किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि इसके तैयार हो जाने से यहां कम से कम 1,000 वाहनों की पार्किंग की व्यवस्था होगी। साथ ही, इसमें कॉमर्शियल गतिविधियां भी संचालित होंगी। पार्किंग के साथ-साथ लोगों को मार्केटिंग की सुविधा होगी और गोलघर में जाम की समस्या से निजात मिलेगी।

शिलान्यास की गई परियोजनाओं में इण्टेलीजेन्ट ट्रैफिक मैनेजमेण्ट सिस्टम, ठोस आपशिष्ट प्रबन्धन के कार्य, मृत पशुओं के निस्तारण किए जाने हेतु संयंत्र की स्थापना, 14वां/15वां वित्त आयोग, अवस्थापना विकास निधि एवं नगर निगम निधि के अन्तर्गत सड़क एवं नाली निर्माण कार्य, पेयजल के कार्य, जल निकासी के कार्य, नालों का फाइटोरेमेडिएशन के माध्यम से षुद्धिकरण का कार्य, 1500 एल0ई0डी0 स्ट्रीट लाइट का कार्य, पार्कों का सौन्दयीकरण तथा डूडा द्वारा सड़क एवं नाली निर्माण आदि कार्य शामिल हैं। इसी प्रकार, लोकार्पित परियोजनाओं में इलेक्ट्रिक बसों हेतु चार्जिंग स्टेशन का निर्माण, 15वें वित्त आयोग के अन्तर्गत सड़क एवं नाली का निर्माण कार्य, रेलवे बस स्टेशन पर फ्री वाई-फाई का कार्य तथा 02 स्थानों पर जोनल कार्यालय के कार्य सम्मिलित हैं।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?