लखनऊ में ऐतिहासिक कार्यक्रम: 4200 महिला कारीगर- बुनकर हुईं भाजपा में शामिल

 


‘मेरा परिवार-भाजपा परिवार’ के अंतर्गत 7505403403 पर मिस्ड कॉल कर ली संगठन की सदस्यता




- केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने पहले महिला कारीगर-बुनकर समागम के दौरान महिलाओं को किया सम्मानित


- केंद्रीय मंत्री ने प्रदर्शनी का किया निरीक्षण, कारीगरों के काम की सराहना  


- भाजपा संगठन में तेज़ी से बढ़ रही है बुनकर-कारीगर की सहभागिता  


- कार्यक्रम का आयोजन श्रीमती क्षिप्रा शुक्ला, अध्यक्ष यूपीआईडीआर ने किया






- केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने पहले महिला कारीगर-बुनकर समागम के दौरान महिलाओं को किया सम्मानित


- केंद्रीय मंत्री ने प्रदर्शनी का किया निरीक्षण, कारीगरों के काम की सराहना  


- भाजपा संगठन में तेज़ी से बढ़ रही है बुनकर-कारीगर की सहभागिता  


- कार्यक्रम का आयोजन श्रीमती क्षिप्रा शुक्ला, अध्यक्ष यूपीआईडीआर ने किया


सुरेन्द्र अग्निहोत्री,लखनऊ। शनिवार को लखनऊ के बाबा भीमराव अंबेडकर यूनिवर्सिटी के अटल बिहारी वाजपेयी ऑडिटोरियम में एक ऐतिहासिक कार्यक्रम हुआ। ‘धरोहर: कुशल हाथों की सफल उड़ान’ के दौरान 4200 महिला बुनकर-कारीगरों ने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ली। इस मौक़े पर केंद्रीय महिला व बाल विकास मंत्री श्रीमती स्मृति ईरानी, उत्तर प्रदेश की सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम राज्यमंत्री श्री चौधरी उदयभान सिंह, भाजपा उत्तर प्रदेश के महासचिव और एमएलसी श्री अश्विनी त्यागी, भाजपा उत्तर प्रदेश के कारीगर और बुनकर प्रकोष्ठ की सह संयोजक व उत्तर प्रदेश इंस्टीट्यूट ऑफ डिज़ाइन एंड रिसर्च की अध्यक्ष श्रीमती क्षिप्रा शुक्ला के साथ हजारों महिला बुनकर-कारीगर मौजूद थे। कार्यक्रम में श्रीमती अर्चना मिश्रा, प्रदेश सचिव, भाजपा भी मौजूद थी।


कार्यक्रम के आयोजन की सराहना करते हुए केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने ‘भारत की नारी शक्ति का प्रतिबिंब क्षिप्रा शुक्ला को बताया। उनके माध्यम से 51 हज़ार बहनों को टूलकिट वितरित की गई, जिससे हज़ारों परिवार सशक्त हुआ है। संगठन में महिलाओं की भूमिका पर ज़ोर देते हुए उन्होंने सभी महिलाओं को नेतृत्व में शामिल होने को भी कहा। उन्होंने श्रीमती क्षिप्रा शुक्ला की उत्साह वर्धन करते हुए कहा कि ’एक ओर भाजपा की एक कार्यकर्ता 2.5 लाख महिलाओं से सीधे संपर्क करती है तो दूसरी ओर उत्तर प्रदेश की सरकार 6.25 करोड़ लोगों को आयुष्मान भारत के अंतर्गत 5 लाख तक के ईलाज को मुफ़्त कराती है।’ इसके साथ केंद्र और राज्य द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न जनकल्याणकारी कार्यों के बारे में भी उन्होंने बताया।

कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने ‘हेलो कमल शक्ति मोबाइल ऐप’ का भी अनावरण किया। 9534350350 के वाट्सऐप और कॉल के माध्यम से अब महिलाएँ संगठन से सीधे संवाद कर सकेंगी। अपने भाषण के दौरान उन्होंने महिलाओं से आगे आकर सरकार व संगठन में अपने सहभागिता बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित किया।

उत्तर प्रदेश के एमएसएमई राज्यमंत्री चौधरी उदयभान सिंह ने भी आयोजन की सराहना करते हुए कहा कि ‘केंद्र सरकार व राज्य सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों से जिन करोड़ों लोगों को फ़ायदा हुआ है, उसके एक इकाई आज कार्यक्रम में शामिल हुई है।’

कार्यक्रम के दौरान अपने उद्बोधन में भाजपा के कारीगर और बुनकर प्रकोष्ठ की सह संयोजक व उत्तर प्रदेश इंस्टीट्यूट ऑफ डिज़ाइन एंड रिसर्च की अध्यक्ष श्रीमती क्षिप्रा शुक्ला ने कहा कि ‘आज की नारी माँ दुर्गा का साक्षात सबूत है। वो आज हर कार्य को करने में सक्षम है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के नेतृत्व में और प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के मार्गदर्शन में भारतीय जनता पार्टी ने महिलाओं के उत्थान के लिए सराहनीय प्रयास किया है।’

इसके साथ कार्यक्रम के दौरान ’धरोहर’ पुस्तिका, कारीगर-बुनकर को सशक्त करने के लिए बनाई गई FIWA (भारतीय बुनकर एवं कारीगर संग) वेबसाइट का भी अनावरण हुआ। कार्यक्रम की शुरूआत में कलाकृतियों के लाइव डेमॉन्सट्रेशन व प्रदर्शनी का आयोजन किया गया था जिसका निरीक्षण स्मृति ईरानी जी ने किया। हस्तकला, कारीगरी व महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं को भी इस दौरान सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के 26 ज़िलों से 4200 से अधिक महिला कारीगर व बुनकर ने प्रतिनिधित्व किया। अनुसूचित जनजाति - थारू समाज के 550 महिलाओं भी कार्यक्रम में शामिल हु
ईं। उनके द्वारा इस दौरान विशेष कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया जिसकी सराहना केंद्रीय मंत्री ने भी की। 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?