जम्मू कश्मीर में शहीद हुए श्री सारज सिंह को उनके पैतृक गांव में राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई

 जम्मू कश्मीर में शहीद हुए श्री सारज सिंह को उनके पैतृक गांव में राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई


राष्ट्र की रक्षा के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने वाले शहीद सारज सिंह का सर्वाेच्च बलिदान सदैव याद रखा जाएगा
         - सुरेश कुमार खन्ना

लखनऊ: 14 अक्टूबर, 2021
उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में सैनिक सम्मान के साथ जम्मू के पुंछ इलाके में आतंकी हमले में शहीद हुए वीर जवान श्री सारज सिंह का आज उनके पैतृक गांव अख्तियारपुर धौकल में अंतिम संस्कार हुआ। उत्तर प्रदेश के वित्त, संसदीय कार्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना एवं सैन्य अधिकारियों सहित हजारों की तादात में लोगों ने पहुंचकर नम आंखों से शहीद सारज सिंह को अंतिम विदाई दी ।
श्री सुरेश कुमार खन्ना ने शहीद सारज सिंह के शौर्य और वीरता को नमन करते हुए कहा है कि राष्ट्र की रक्षा के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने वाले शहीद सारज सिंह का सर्वाेच्च बलिदान सदैव याद रखा जाएगा। शहीद लाल ने देश एवं प्रदेश के साथ-साथ जनपद शाहजहांपुर का नाम रोशन किया है, लेकिन अफसोस इस बात का है कि है परिवार का लाडला चला गया। उन्होंने देश के प्रति अपनी कुर्बानी देने वाले लाल को सलामी दी। उन्होंने शहीद श्री सारज सिंह के परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की और शोक की इस घड़ी में परिवार के सदस्यों का ढांढस बंधाया।
श्री सुरेश कुमार खन्ना ने उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से शहीद सारज सिंह की पत्नी को 35 लाख रुपए एवं उनकी माता जी को 15 लाख रुपए कुल 50 लाख रुपए की आर्थिक सहायता राशि का चेक सौंपा। प्रदेश सरकार की तरफ से शहीद स्व0 सारज सिंह के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी व शहीद के नाम पर एक सड़क के नामकरण की घोषणा भी की।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा