मुख्यमंत्री ने सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयन्ती के अवसर पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की -मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

 


मुख्यमंत्री ने सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयन्ती के अवसर

पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की

आज पूरा देश सरदार वल्लभ भाई पटेल की 146वीं जयन्ती मना रहा

सरदार वल्लभ भाई पटेल ने कठिन और चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में अत्यन्त सहजता के साथ देश 
की 563 रियासतों को भारत गणराज्य का हिस्सा बनाकर एक भारत के निर्माण में प्रमुख भूमिका निभाई

प्रधानमंत्री जी ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ की परिकल्पना को साकार कर रहे

स्वतंत्र भारत की एकता व अखण्डता को स्थापित करने
में सरदार वल्लभ भाई पटेल का अतुलनीय योगदान रहा

 सरदार पटेल के योगदान को जनता तक पहुँचाने के लिए प्रधानमंत्री जी ने वर्ष 2014 मंे उनकी जयन्ती को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया

सरदार पटेल ने सोमनाथ मन्दिर के पुनरुद्धार में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी



लखनऊ: 31 अक्टूबर, 2021

     उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयन्ती के अवसर पर आज यहां जी0पी0ओ0 स्थित सरदार पटेल पार्क में स्थापित उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की।
     मुख्यमंत्री जी ने इस अवसर पर अपने सम्बोधन में कहा कि आज पूरा देश सरदार वल्लभ भाई पटेल की 146वीं जयन्ती मना रहा है। दृढ़ प्रतिज्ञ सरदार वल्लभ भाई पटेल ने कठिन और चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में अत्यन्त सहजता के साथ देश की 563 रियासतों को भारत गणराज्य का हिस्सा बनाकर एक भारत के निर्माण में प्रमुख भूमिका निभाई थी। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ की परिकल्पना को साकार कर रहे हैं।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि स्वतंत्र भारत की एकता व अखण्डता को स्थापित करने में सरदार वल्लभ भाई पटेल का अतुलनीय योगदान रहा। सरदार पटेल के योगदान को जनता तक पहुँचाने के लिए प्रधानमंत्री जी ने वर्ष 2014 मंे प्रत्येक वर्ष 31 अक्टूबर को उनकी जयन्ती को ‘राष्ट्रीय एकता दिवस’ के रूप में मनाने का निर्णय लिया। सरदार पटेल के सम्मान में प्रधानमंत्री जी ने गुजरात के सरदार सरोवर बांध के निकट सरदार पटेल की विशाल प्रतिमा की स्थापना करके दुनिया के सामने सिद्ध किया कि सरदार पटेल का स्थान भारत में बहुत ऊँचा है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि भारत में जब-जब स्वाधीनता संग्राम की चर्चा होगी, तब-तब सरदार वल्लभ भाई पटेल व नेताजी सुभाष चन्द्र बोस को स्मरण किया जायेगा। सरदार पटेल ने जूनागढ़ व हैदराबाद रियासत का स्वाधीन भारत में विलय कराया। उनका यह कार्य स्वतंत्र भारत के प्रत्येक नागरिक को सदैव प्रेरणा प्रदान करता रहेगा। सरदार पटेल ने सोमनाथ मन्दिर के पुनरुद्धार में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभायी।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी ने सरदार वल्लभ भाई पटेल स्मारक समिति द्वारा प्रकाशित ‘पटेल स्मारिका-2021’ का विमोचन किया। उन्होंने स्व0 श्री राम कुमार वर्मा के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।
इस अवसर पर विधि एवं न्याय मंत्री श्री ब्रजेश पाठक, जल शक्ति मंत्री डॉ0 महेन्द्र सिंह, नगर विकास मंत्री श्री आशुतोष टण्डन, विधायक श्री शशांक वर्मा, लखनऊ की मेयर श्रीमती संयुक्ता भाटिया, मुख्य सचिव श्री आर0के0 तिवारी सहित वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।
-------

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?