बुन्देलखण्ड के लोकदेवता लाला हरदौल के जीवन पर आधारित इस नाटक का मंचन

 


लखनऊ।  बाल्मीकि रंगशाला संगीत नाटक अकादमी गोमतीनगर प्रेक्षागृह में बुन्देलखण्ड सांस्कृतिक एवं सामाजिक सहयोग परिषद एवं विजय बेला के संयुक्त तत्त्वावधान में कथाकार  महेन्द्र भीष्म जो सहयोग के वरिष्ठ उपाध्यक्ष  के द्वारा लिखा नाटक वीरवर लाला हरदौल का मंचन बाँदा निवासी श्री चन्द्रभाष सिंह के निर्देशन में  में मंचित किया गया।  इस कार्यक्रम में महेन्द्र कुमार तिवारी      अध्यक्ष श्रद्धा लिटोरिया,उपाध्यक्ष, कैलाश जैन महासचिव,बनारसीदास संरक्षक  बुंदेलखंड सहयोग परिषद, ने शुभारम्भ कार्यक्रम में मेजबानी की ।इस अवसर पर  अपने उदबोधन में महेन्द्र कुमार तिवारी      अध्यक्ष   ने श्री महेन्द्र भीष्म को साधुवाद दिया गया।  बुन्देलखण्ड के  लोकदेवता लाला हरदौल के जीवन पर आधारित इस नाटक को प्रस्तुत करने के लिए आभार व्यक्त किया।      कार्यक्रम का सफल संचालन राखी अग्रवाल ने किया।भव्य प्रस्तुत ने  दर्शकों को भावविभोर कर दिया राजधानी में पहला अवसर था जब बुंदेली लोक संस्कृति लोक संस्कृति को अभिव्यक्त करने वाले नाटक का मंचन हुआ। नाटक के निर्देशन पक्ष और कलाकारों की सभी ने सराहना की। 
 




                       

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?