संस्कारों द्वारा भविष्य सुधरेगा होगा जीवन का निर्वाण : आर्यिकाश्री


मुुख्ययज्ञ नायिका बनी हेमलता महेंद्र कठरया 


ललितपुर। दयोदय पशु संरक्षण केन्द्र गौशाला में संस्कार एवं शिक्षा का
अनूठा संगम स्थापित करने के उददेश्य से आचार्यश्री विद्यासागर महाराज के
आशीर्वाद से प्रतिभास्थली ज्ञानोदय विद्यापीठ का शुभारम्भ आर्यिका
आदर्शमति माताजी ससंघ के सानिध्य में हुआ जिसमें जैन समाज से समर्पण भाव
से प्रतिभास्थली संचालन के लिए संकल्प लिया। प्रतिभास्थली एवं हथकरघा
प्रशिक्षण केन्द्र का शुभारम्भ करते हुए मुख्य अतिथि पूर्व केन्द्रीय
मंत्री प्रदीप जैन आदित्य ने कहा आचार्यश्री ने बालिकाओं के भविष्य को
संवारने एवं बेहतर शिक्षा के लिए देश में प्रतिभास्थली के माध्यम से जो
शंखनाद किया वह समाज के लिए वरदान है। उन्होने कहा पाश्चात संस्कृति जो
वर्तमान में अभिशाप जहां सावित हो रही है ऐसे में संस्कारों की महति
आवश्यकता है जिसका सपना प्रतिभा स्थली में संस्कारों के माध्यम से पूरा
होगा। उन्होंने कहा स्वरोजगार को वढावा देने और स्वावलम्बी बनाने के लिए
हथकरघा प्रशिक्षण केन्द्र वहुत अच्छी सोच है इसमें अपने हाथ से निर्मित
वस्त्रों का उपयोग कर हम अपनी प्राचीन संस्कृति को वापिस ला सकते हैं।
कार्यक्रम में अहिल्लावाई विश्वविद्यालय इन्दौर की कुलपति रेनू जैन ने
आर्यिका मां के मार्गदर्शन में चल रही प्रतिभास्थली के माध्यम से हो रहे
सामाजिक परिवर्तन को समाज के लिए आदर्श बताया। उन्होने कहा अच्छी शिक्षा
के साथ साथ संस्कारों की महति आवश्यकता है जिसको प्रतिभा स्थली के माध्यम
से पूरा किया जा रहा है। संगीता मेहता इन्दौर, आशीष जैन आगरा एवं नीरज
दीदी ने प्रतिभास्थली के स्वरूप पर प्रकाश डालते हुए कहा इससे भविष्य
सुधरेगा और आदर्श समाज का निर्माण होगा। कार्यक्रम के प्रारम्भ में
कुलपति रेनू जैन एवं प्रदीप जैन आदिनाथ कालेज ने आर्यिका संघ को शास्त्र
भेंट किए। कार्यक्रम में आर्यिका आदर्शमति माताजी ने वालिकाओं को
संस्कारित करने के लिए लोकिक शिक्षा के साथ साथ धार्मिक शिक्षा को जरूरी
बताया उन्होने कहा खानपान और विचारों में शुद्धि के साथ परिणामों में
निर्मलता आती है और वालिकाओं को ऐसी विचारधारा के माध्यम से प्रतिभास्थली
में संस्कारों के साथ साथ शिक्षा मिलने से उनका भविष्य संवरेगा। इस मौके
पर सदर विधायक रामरतन कुशवाहा ने आचार्य श्री विद्यासागर महाराज के
मार्गदर्शन में चल रहे शिक्षा चिकित्सा और हथकरघा के प्रकल्पों के माध्यम
से हो रहे समाज में अपूर्व परिवर्तन को नमन किया।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?