कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा को लेकर राष्ट्रीय बजरंग दल ने प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजा


राष्ट्रीय बजरंग दल ने प्रधानमंत्री को भेजा ज्ञापन
ललितपुर। वर्ष 1990 से 2021 तक कश्मीर में हिन्दुओं का नरसंहार आज भी जारी है। कश्मीर में जेहादी आतंकवाद को समाप्त किये जाने, तबलिघ जमात पर प्रतिबंध लगाये जाने एवं कश्मीर के हिन्दुओं को सुरक्षा मुहैया कराने के साथ ही उनके घरों को वापस पहुंचाने की मांग को लेकर राष्ट्रीय बजरंग दल ने देश के प्रधानमंत्री को संबोधित एक ज्ञापन अपर जिलाधिकारी अनिल कुमार मिश्र को सौंपा।
ज्ञापन में बताया कि कश्मीर में हिन्दुओं को सीधे तौर पर चिह्नित कर मौत के घाट उतारा जा रहा है। राकेश पंडिता, माखनलाल बिंदरू, वीरेन्द्र पासवान, सुपीन्द्र कौर, दीपक चांद यह इस घटनाक्रमों के जीते-जागते उदाहरण है। कहा कि परिवार से संपन्न ऐसे लोगों को सिर्फ हिन्दु होने के कारण मौत के घाट उतार दिया गया। उन्होंने बताया कि धारा 370 समाप्त हुयी। कश्मीर में इस्लामिक जेहादी आतंकवाद को भी जड़मूल से समाप्त करने की मांग उठायी। इसके अलावा उन्होंने अन्य समस्याओं को भी उठाते हुये उनके निराकरण की मांग की। ज्ञापन देते समय प्रान्त कार्य अध्यक्ष भगवान सिंह बुन्देला, आनंद चतुर्वेदी, अभिषेक कुमार, सचिन दुबे, शिवम शर्मा आदि मौजूद रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा