पत्रकारों और समाजसेवियों ने दादा मियां की दरगाह पर पेश की अक़ीदद की चादर

 पत्रकारों और समाजसेवियों ने दादा मियां की दरगाह पर पेश की अक़ीदद की चादर

 


 
 (संवाददाता)
लखनऊ। हिंदू मुस्लिम एकता की प्रतीक हज़रत ख़्वाजा मोहम्मद नबी रजा शाह दादा मियां के 114 वें सालाना उर्स के अंतिम दिन आज उत्तर प्रदेश जिला मान्यता प्राप्त पत्रकार एसोसिएशन ने समाज सेवियों के साथ मॉल एवेन्यू स्थित दरगाह पर चादर पेश की और मुल्क में सबकी खुशहाली,एकता -अखण्डता और अमन-चैन की दुआ की।इस अवसर पर उपस्थित सभी लोगो का स्वागत करते हुए दरगाह के सज्जादा नशीन ख्वाजा मोहम्मद शबाहत हसन ने कहा कि आज समाज में सबका भला तभी हो सकता है जब हम सब एक साथ मिलजुल कर रहे हैं।
सज्जादानशीन ने सभी पत्रकारों- छायाकारों को पगड़ी बांधकर सम्मानित किया।
उत्तर प्रदेश जिला मान्यता प्राप्त पत्रकार एसोसिएशन के महामंत्री अब्दुल वहीद और सचिव जुबेर अहमद ने कहा कि कोरोना महामारी के समय मीडिया के बहुत से हमारे साथी बिछड़ गए हैं।ईश्वर से यह दुआ है कि अब आगे हम सभी स्वस्थ और सुरक्षित रहे और ईश्वर सभी दुखी परिवारों की मदद करें।
इस अवसर पर वरिष्ठ पत्रकार रजा रिज़वी, शायर हसन काजमी समाजसेवी मुर्तुज़ा अली,पी सी कुरील, अब्दुल वहीद,जुबैर अहमद,तौसीफ हुसैन, नजम अहसन(अध्यक्ष एन.पी.टी.आई), आरिफ मुकीम, विजय गुप्ता, जुनैद खान,जितेंद्र कुमार खन्ना, विजय सिंह, अवधेश सोनकर, अमरजीत कुरील,साज़,रामबाबू , वसी अहमद सिद्दीकी, शाहनवाज, फैसल मुजीब,विशेष रूप से उपस्थित रहे।
29 अक्टूबर से 2 नवंबर 2021 तक 5 दिन तक चले इस उर्स में देश विदेश से आए हजारों जायरीन ने शिरकत की।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?