अखिलेश यादव की विजय यात्रा- बुन्देलखण्ड बदलाव के लिए तैयारः -राजेन्द्र चौधरी

 

अखिलेश यादव की विजय यात्रा-
                               बुन्देलखण्ड बदलाव के लिए तैयारः
                                                                                  -राजेन्द्र चौधरी

      समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव की तीन दिवसीय (1, 2 व 3 दिसम्बर 2021) बुन्देलखंड यात्रा ने राजनीति में भूचाल का काम किया है। वे जहां-जहां गए हजारों की भारी भीड़ उनके स्वागत में उमड़ती रही। इनमें बुजुर्ग भी थे, महिलाएं और बच्चे भी थे। नौजवानों में तो अपने प्रिय नेता के प्रति जुनून दिख रहा था। श्री अखिलेश यादव की विजय रथ यात्रा में तीन दिन बुंदेलखंड के लाखों लोगों से सम्पर्क संवदा से यह बात तो स्पष्ट कर दी है कि बुन्देलखंड, जिसने पिछले विधानसभा चुनावों में भाजपा को सभी सीटों पर जिता दिया, इस बार वह उसे शून्य पर पहुंचा कर रहेगा। इस प्रबल जनसमर्थन का ही नतीजा था कि आत्मविश्वास से अखिलेश जी ने कहा कि इस बार भाजपा का सफाया होगा। उनकी हर सभा में लाल टोपियां लहरा रही थी तो हरे लाल के साथ सहयोगी दलों के पीले-नीले झंडे भी लहरा रहे थे।  


      समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अखिलेश यादव के नेतृत्व में निश्चय ही समाजवादी विजय संकल्प यात्रा को बुंदेलखंड की जनता का भारी जनसमर्थन मिला है। 1 दिसंबर 2021 को बुंदेलखंड के तीन दिवसीय यात्रा पर निकले श्री अखिलेश यादव के प्रति जनता में उत्साह, विश्वास और जोश का जो जज्बा दिखा है वह अभूतपूर्व है। भाजपा की गलत नीतियों से परेशान किसान, नौजवान, मजदूर, महिलाएं, अगड़े, पिछड़े, दलित, अल्पसंख्यक सभी वर्ग श्री अखिलेश यादव के साथ खड़े हो गए हैं। जनसभाओं में श्री अखिलेश यादव को सुनने और देखने के लिए अपार जनसमूह आ रहा है। इसे देखकर भाजपा नेतृत्व, हताश निराश और बदहवासी की स्थिति में है।


    श्री राजेन्द्र चौधरी ने बताया श्री अखिलेश यादव ने बुंदेलखंड में भाजपा की कारगुजारी को उजागर करने के लिए अपनी यात्रा की शुरुआत बांदा से की। सपा के सहयोगी दलों महान दल के अध्यक्ष श्री केशव देव मौर्य और अपना दल (क) की अध्यक्ष श्रीमती कृष्णा पटेल के साथ श्री अखिलेश यादव ने बांदा में विशाल और ऐतिहासिक जनसभा की। बांदा की जनसभा में हर वर्ग के लोग शामिल हुए। जनसभा में जबरदस्त उत्साह रहा। जनता जनार्दन ने अखिलेश जी के प्रति भरोसा जताया। समाजवादी पार्टी और सहयोगी दलों के झंडे, बैनर, टोपी लगाए कार्यकर्ताओं के नारों से भीड़ में ऊर्जा और आशा का संचार हुआ। उत्साहित जनसमूह ने उत्तर प्रदेश में बदलाव की नई इबारत लिख दी है।


      श्री अखिलेश यादव ने कहा कि अगर जनता ने इसी उत्साह के साथ वोट कर दिया तो भाजपा की ऐतिहासिक हार होगी। उन्होंने बुंदेलखंड की जनता को भूख से निजात दिलाने का वादा किया। खेतों तक पानी पहुंचाने का वादा किया। बुंदेलखंड की गरीबी को दूर करने का वादा किया। जनता को भाजपा के धोखे और झूठ से अवगत कराया। सहयोगी दलों के नेताओं ने भी जनता को भाजपा से सावधान किया।
      बांदा से महोबा के बीच समाजवादी कार्यकर्ताओं, नेताओं आम जनता, महिलाओं और किसानों ने जगह-जगह श्री अखिलेश यादव का स्वागत किया। उनके प्रति तथा समाजवादी नीतियों के प्रति भरोसा जताया। भाजपा सरकार की महंगाई, बेरोजगारी, अन्याय, अत्याचार से परेशान जनता ने बदलाव का मन पहले ही बना लिया था लेकिन अखिलेश यादव ने उस बदलाव को उम्मीद का नेतृत्व दिया है।


      श्री चौधरी ने कहा जनता की उमड़े स्नेह और विष्वास का नतीजा रहा कि समाजवादी विजय रथ से श्री अखिलेश यादव को बांदा से महोबा पहुंचने में घंटों लग गए। जगह जगह लोगों ने भव्य और गर्मजोशी के साथ स्वागत किया। रथ यात्रा के साथ नौजवानों का रेला उमड़ पड़ा। बुंदेलखंड में किसी नेता के प्रति ऐसा प्यार और विश्वास पहले कभी नहीं दिखा। कई घंटे देरी से महोबा की जनसभा में पहुंचने के बाद भी भारी भीड़ श्री अखिलेश यादव को देखने और सुनने का इंतजार कर रही थी।
    जनता के सभी वर्गों से मिल रहे अपार भरोसे से श्री अखिलेश यादव भी बेहद भावुक हो गए। उन्होंने महोबा में लोगों को भाजपा के कुशासन, अन्याय, अत्याचार और परेशानियों से निजात दिलाने का वादा किया। श्री अखिलेश यादव ने महोबा की जनता को समाजवादी सरकार में किए गए कार्यों के बारे में बताया। समाजवादी पार्टी की सरकार में दर्जनों तालाब खुदवाए गए, बांधों का काम तेजी से बढ़ा। बुंदेलखंड में सूखे के दौरान समाजवादी सरकार में गरीब जनता के खाने-पीने का इंतजाम किया। समाजवादी पैकेट का वितरण कराया। पैकेट में चावल, दाल, आटा के साथ दूध, घी और तेल, नमक का भी इंतजाम किया। लोहिया आवास योजना के तहत गरीबों को आवास दिया। महिलाओं को समाजवादी पेंशन देकर मदद की। आज बुंदेलखंड की जनता समाजवादी सरकार के कार्यों को याद कर रही है।


     यात्रा के दूसरे दिन श्री अखिलेश यादव ने  महोबा से ललितपुर पहुंचकर आम लोगों और नेताओं से मुलाकात की, जनसभा को संबोधित किया, विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल हुए। बुंदेलखंड के लोगों की समस्याओं की जानकारी ली। श्री अखिलेश यादव ने समाप्त सपा सरकार बनने पर किसानों के लिए नई योजनाएं लाने और मंडिया बनाने, खाद, बीज पानी का समय से इंतजाम करने का वादा किया। उन्होंने भाजपा सरकार में किसानों के साथ हुए अत्याचार और अन्याय से जनता को अवगत कराया।
      श्री राजेन्द्र चौधरी ने कहा बीजेपी सरकार की चालाकी और झूठ को उजागर करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा ने वोट के लिए 3 काले कृषि कानून वापस किए हैं। भाजपा कभी भी किसानों की हितैषी नहीं रही है। भाजपा हमेशा उद्योगपतियों का हित देख कर काम करती है। किसानों को इतना अपमानित किसी सरकार ने नहीं किया है। आज खाद के लिए भी किसान को लाइन में खड़ा होना पड़ रहा है। भाजपा ने किसानों की आय को दोगुना करने का झूठा वादा किया। श्री अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा की कथनी और करनी में बहुत अंतर है।
जनपद ललितपुर में श्री अखिलेश यादव ने समाजवादी सरकार में लगाए गए बिजली परियोजनाओं के बारे में लोगों को जानकारी देते हुए बताया कि सपा सरकार बनने पर बिजली के बिल में उम्मीद से ज्यादा राहत देंगे। भाजपा सरकार ने बिजली का कोई कारखाना नहीं लगाया, एक भी यूनिट बिजली नहीं बढ़ाई, लेकिन जनता को महंगी बिजली देकर पैसा वसूल रही है।
     श्री अखिलेश यादव ने ललितपुर में यात्रा के तीसरे दिन झांसी में तीन जनसभाओं को संबोधित किया। जनसभाओं में आम जनता में प्रदेश में बदलाव के प्रति जबरदस्त ललक दिखी। पूर्वांचल की सफल और उत्साहित समाजवादी विजय रथ यात्रा के बाद बुंदेलखंड की यात्रा से जनता में भरोसा कई गुना बढ़ा है। पूरे प्रदेश ही नहीं अब पूरे देश में यह विष्वास हो चला है कि 2022 में श्री अखिलेश यादव के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी की सरकार बनने जा रही है।
समाजवादी पार्टी भाजपा को सत्ता से बेदखल कर जनता को कुशासन, अन्याय, अत्याचार, अपमान, बेरोजगारी और महंगाई के दंश से मुक्त कर आएगी। जनता का विश्वास और भरोसा समाजवादी पार्टी की नीतियों और श्री अखिलेश यादव के नेतृत्व के प्रति लगातार बढ़ता जा रहा है। इसी भरोसे और विश्वास ने यूपी में बदलाव की लहर पैदा कर दी है। जनता भाजपा के धोखे और झूठ से कराह रही है। बीजेपी सरकार ने प्रदेश का विकास अवरुद्ध कर दिया है जनहित में कोई भी कार्य नहीं किया है।
    अपनी संभावित हार से डरे और भयभीत भाजपा नेतृत्व ने अब नई साजिश और षडयंत्र करना शुरू कर दिया है। नफरत और बांटने की राजनीति करने वाली भाजपा के पास जनता को बताने के लिए अपना कोई काम नहीं है। इसीलिए बौखलाए हुए भाजपा नेताओं ने प्रदेश को एक बार फिर दलदल में फंसाने का षड्यंत्र रचना शुरू कर दिया है। लेकिन प्रदेश की जनता इस बार बेहद सतर्क और सावधान है। भाजपा को उसके साजिश और षडयंत्र का करारा जवाब मिलेगा। 2022 में प्रदेष की जनता बदलाव लाकर श्री अखिलेश यादव के नेतृत्व में नई उम्मीद और विश्वास के साथ जनकल्याणकारी विकास परक सरकार बनाएगी।
         (लेखकः राजेन्द्र चौधरी समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री हैं)

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

होमियोपैथी कोरोना के नए वैरीअंट के खिलाफ महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है-डॉ एम डी सिंह