22 लाख से अधिक नौजवानों को आईटी सेक्टर में नौकरी दिलाने का वायदा -अखिलेश यादव


 लखनऊ

          दिनांकः22.01.2022  

    समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने घोषणा की है कि 2022 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी की सरकार बनने पर ‘नौकरी-रोजगार संकल्प श्रृंखला‘ में आईटी सेक्टर में 22 लाख नौजवानों को नौकरी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी लखनऊ से आगे कानपुर, आगरा, बरेली, झांसी, वाराणसी और पूर्वांचल में भी आईटी का हब बनाएगी और 22 लाख से अधिक नौजवानों को आईटी सेक्टर में नौकरी दिलाने का वायदा पूरा करेगी।

    समाजवादी पार्टी मुख्यालय, लखनऊ में आज मीडिया से वार्ताक्रम में श्री अखिलेश यादव ने कहा कि यह 22 लाख नौकरियां पुलिस, शिक्षक एवं अन्य सरकारी विभागों में भर्ती के अलावा होंगी। उन्होंने कहा कि पहले आईटी सेक्टर नोएडा और गाजियाबाद के आस पास ही था लेकिन समाजवादी सरकार ने पहली बार लखनऊ में आईटी सिटी का निर्माण कराया। एचसीएल जैसी कंपनी यहां आई जिसमें आईटी सेक्टर के 5 हजार इंजीनियरों को नौकरी मिली। समाजवादी सरकार इसे और आगे बढ़ाना चाहती थी, लेकिन भाजपा सरकार ने इस पर कोई काम नहीं किया। विकास कार्यों को रोका है। 


    श्री यादव ने कहा कि लखनऊ आईटी सिटी में युवाओं को क्वालिटी जॉब मिला, कई बड़ी-बड़ी कंपनियों को छोड़कर इंजीनियर लखनऊ आए। 12वीं पास युवाओं को प्रशिक्षण देकर टेªनिंग देंगे। साढ़े तीन हजार बी-टेक करके आए हैं। आने वाले समय में 22 लाख से ज्यादा नौकरियां सृजित हो सकेंगी। 

    श्री अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी ने चुनाव में पहला संकल्प लिया हैं कि 300 यूनिट घरेलू बिजली फ्री दी जाएगी, किसानों की सिंचाई मुफ्त होगी। इससे उन्हें आगे की पढ़ाई और रोजगार में मदद मिली है। छात्रों नौजवानों को पहले की तरह लैपटॉप दिया जाएगा। समाजवादी पेंशन 18 हजार रुपए हर साल दी जाएगी। 

    श्री यादव ने कहा कि प्रदेश की जनता खुशहाली और विकास चाहती है। जनता समाजवादी पार्टी की ओर देख रही है। उन्होंने कहा कि नौकरियों को लेकर अभी हमने सिर्फ आईटी सेक्टर की बात कही है। सरकारी और अन्य क्षेत्रों की नौकरियों के बारे में अपने घोषणा पत्र में शामिल करेंगे। श्री यादव ने कहा कि भाजपा सरकार ने तमाम विकास योजनाओं को रोक दिया है। भाजपा ने जनता को झूठे विज्ञापन दिखाए। किसानों, नौजवानों, मजदूरों को धोखा दिया।

    श्री यादव ने कहा कि भाजपा राज में गोशालाओं में गाय भूखों मर रही हैं। समाजवादी सरकार में कामधेनु योजना शुरू की गई थी जो रोक दी गई। समाजवादी सरकार में गोशालाओं में सुधार होगा।

    श्री अखिलेश यादव ने कहा कि जो अधिकारी भाजपा कार्यकर्ता बनकर काम कर रहे हैं उनको हटाए बिना स्वतंत्र व निष्पक्ष चुनाव कैसे होंगे। उन्होंने कहा भाजपा को चुनाव की पहले से कैसे जानकारी हो गई कि उन्होंने एलईडी वाहन ले लिये।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

आपकी लिखी पुस्तक बेस्टसेलर बने तो आपको भी सही निर्णय लेना होगा !

पौष्टिकता से भरपूर: चंद्रशूर