हिन्दू महासभा का कालीचरण की रिहाई को लेकर प्रदर्शन चार जनवरी को

पार्टी की संत सभा  प्रधानमंत्री के नाम राज्यपाल को सौंपेगा ज्ञापन


लखनऊ। अखिल भारत हिन्दू महासभा, उत्तर प्रदेश इकाई पूरे राज्य में कालीचरण की बिना शर्त रिहाई की मांग को चार जनवरी को प्रदेश के जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन कर प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपेगी। वहीं लखनऊ में पार्टी की संत सभा के प्रदेश अध्यक्ष बाबा महादेव के नेतृत्व में 1090 चौराहा पर छत्तीसगढ़ सरकार का विरोध करने के बाद प्रदेश की राज्यपाल आनन्दीबेन पटेल को प्रधानमंत्री के नाम सम्बोधित ज्ञापन प्रेषित करेगी। आज यहां इस आशय की जानकारी हिन्दू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी ने देते हुये बताया कि कालीचरण की रिहाई कल सोमवार तक न हुयी तो चार जनवरी से उत्तर प्रदेश के साथ देशभर में व्यापक पैमाने पर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया जायेगा। श्री त्रिवेदी ने प्रदेश के विभिन्न जिला एवं नगर इकाईयों के अध्यक्षों को चार जनवरी को अपने-अपने जिलों के मुख्यालयों पर प्रदर्शन कर कालीचरण की रिहाई की मांग को लेकर ज्ञापन देने के लिये निर्देशित किया है। वहीं प्रदेश की राजधानी में मौजूद सभी पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं और सदस्यों को चार जनवरी को अपराह्न 12 बजे बजे 1090 चौराहा पर पहुंचने के लिये कहा गया है जहां पार्टी की संत इकाई के बाबा महादेव के नेतृत्व में कालीचरण महाराज की रिहाई की मांग को लेकर प्रदर्शन किया जायेगा जहां पैदलमार्च करते हुये राज्यपाल भवन पहुंच कर प्रधानमंत्री के नाम प्रेषित ज्ञापन उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनन्दीबेन पटेल को सोंपा जायेगा। कार्यक्रम की जानकारी देते हुये श्री त्रिवेदी ने बताया कि देश में संतों का अपमान करने की कांग्रेस की परम्परा रही है और कालीचरण ने गांधी को लेकर जो भी कहने का तात्पर्य था वहीं सही है, छत्तीसगढ़ की सरकार अनावश्यक परेशान करने की नीयत से मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा है, अगर हिम्मत हो तो भगवान श्रीराम के अस्तित्व को नकारने वाले, भारत माता को गाली देने वालों और देश के टुकड़े करने वाले, देश में योगी-मोदी के बाद हिन्दुओं को बचाने आदि बयान देने वालों के खिलाफ मुकदमा करके दिखाये। 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

होमियोपैथी कोरोना के नए वैरीअंट के खिलाफ महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है-डॉ एम डी सिंह