पत्रकार को जान से मारने की धमकी देने वाले ग्राम प्रधान के विरुद्ध दर्ज हुआ मुकदमा



प्रयागराज सुनील और सुशील पटेल की खास रिपोर्ट

प्रयागराज जनपद के कौंधियारा विकास खंड के अंतर्गत आने वाली ग्राम सभा नौगवां में खबर कवरेज करने गए पत्रकारों के साथ ग्राम प्रधान ने की अभद्रता और दी जान से मारने की धमकी। अगर देखा जाए तो ग्राम प्रधान के द्वारा जहां गांव में विकास कार्यों को मनरेगा मजदूरों से कार्य न कराकर के जेसीबी से कार्य कराया जा रहा था। जिसकी खबर कवरेज करने पहुंचे क्षेत्रीय पत्रकार वैभव यादव अपने सहयोगी पत्रकार साथियों के साथ जैसे ही गांव में पहुंचे और चल रही जेसीबी की वीडियो जब बनाना शुरू किया, तो वहां मौजूद ग्राम प्रधान ने उक्त सभी पत्रकार साथियों के साथ गाली गलौज करते हुए जान से मारने की धमकी दी। वहीं पत्रकार के साथ मौजूद कुछ अन्य लोग भी पत्रकारों के साथ अभद्रता करने लगे पीड़ित पत्रकार के द्वारा जहां इस संदर्भ में कौंधियारा थाने में लिखित शिकायत की गई। जिस पर थाना प्रभारी कौधियारा के आदेश पर पत्रकारों की शिकायत को ध्यान में रखते हुए ग्राम प्रधान नौगवां मानिकचंद यादव के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत किया गया। जिसमें मुकदमा अपराध संख्या 73/022 धारा 323 504 506 आईपीसी के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया। वहीं अगर देखा जाए तो इसके पहले भी ग्राम प्रधान के द्वारा अन्य पत्रकारों से भी इसी प्रकार की अभद्रता की जा चुकी है। वहीं ग्राम प्रधान एक राजनीतिक पार्टी से प्रेरित होने के कारण वर्तमान सरकार की नीतियों को गलत बताते हुए उल्टे पत्रकारों पर ही आरोप लगाना शुरू कर देते हैं। अगर देखा जाए तो ग्राम प्रधान के द्वारा ग्राम सभा में कराए जा रहे विकास कार्यों की ग्रामीण ही शिकायत करते हैं। जिस पर पत्रकार खबर कवरेज करने जब गांव में पहुंचते हैं तो पत्रकारों के साथ प्रधान व प्रधान के चमचे गाली गलौज व मारपीट पर आमादा हो जाते हैं। वही इस संदर्भ में प्रधान संघ कौंधियारा के प्रधानसंघ के अध्यक्ष से भी बातचीत की गई तो उनके द्वारा ग्राम प्रधान के द्वारा पत्रकारों के साथ की गई अभद्रता को लेकर ग्राम प्रधान को ही दोषी माना।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

पौष्टिकता से भरपूर: चंद्रशूर