भीषण गर्मी व उमस के कारण प्रदेश में कल शाम की गई रिकॉर्ड 26215 मेगावाट विद्युत आपूर्ति



उपभोक्ताओं को पर्याप्त एवं निर्बाध विद्युत आपूर्ति के लिए सरकार संकल्पित


विद्युत व्यवस्था बेहतर बने, इसमें उपभोक्ताओं की सहभागिता जरूरी


विद्युत कार्मिक अपनी कार्य संस्कृति में बदलाव लाकर ईमानदारी 

व कर्तव्यनिष्ठा के साथ जनता की सेवा करें


कार्यों में किसी भी प्रकार की शिथिलता व लापरवाही पर 

होगी संबंधित के खिलाफ सख्त कार्रवाई

-श्री ए0के0 शर्मा


लखनऊ: 08 जून, 2022

 प्रदेश के ऊर्जा मंत्री ए0के0 शर्मा ने कहा कि प्रदेश में भीषण गर्मी व उमस के कारण लोगों को परेशानी का सामना ना करना पड़े, इसके लिए ऊर्जा विभाग ने कल शाम मांग के अनुरूप 26215 मेगावाट विद्युत की आपूर्ति की है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में लगातार विद्युत की मांग बढ़ रही है, इसके पहले 15 मई 2022 को प्रदेश में पहली बार ऐतिहासिक 25436 मेगावाट विद्युत की आपूर्ति की गई थी। 

 ऊर्जा मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार सभी उपभोक्ताओं को पर्याप्त एवं निर्बाध विद्युत आपूर्ति देने के लिए संकल्पित है। इसके लिए प्रदेश में विद्युत की सुचारू व्यवस्था बने,इसके प्रयास किए जा रहे हैं तथा छोटी-छोटी कमियों को भी दूर करने के लिए विद्युत कार्मिक 24×7 काम करते हुए इसमें अपना महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं।उन्होंने सभी विद्युत कार्मिकों को इसके लिए धन्यवाद दिया है।

ए0के0 शर्मा ने कहा कि उपभोक्ताओं को किसी भी प्रकार की समस्या ना हो, इसके लिए ऊर्जा विभाग में 'सम्भव' नामक व्यवस्था लागू की गई है, जिसके तहत उपभोक्ताओं की शिकायतों का समयबद्ध व गुणवत्तापूर्ण एवं स्थानीय स्तर पर ही समाधान अधिकारियों द्वारा किया जा रहा है। साथ ही कहीं से भी कोई शिकायत ना आए, इसके लिए भी अधिकारियों को सख्त हिदायत दी गई है, कि वे अपनी कार्य संस्कृति में बदलाव लाकर ईमानदारी व कर्तव्यनिष्ठा के साथ जनता की सेवा करें। उनके कार्यों में किसी भी प्रकार की शिथिलता व लापरवाही पाए जाने पर संबंधित के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

 उन्होंने कहा कि प्रदेश में विद्युत व्यवस्था को बेहतर  बनाने के लिए विद्युत उपकरणों के प्रीवेंटिव मेंटिनेस पर जोर दिया जा रहा है। जर्जर व झूलते तारों को ठीक कराया जा रहा है।लोड बैलेंसिंग बनाने व ट्रिपिंग को रोकने के लिए ट्रांसफॉर्मर, फीडर व उपकेंद्र की क्षमता वृद्धि के साथ ही अंडरग्राउंड केबिलिंग कराई जा रही है। विद्युत चोरी रोकने के भी प्रयास किए जा रहे हैं। इन सभी कार्यों के सार्थक परिणाम आए, इसके लिए  सभी उपभोक्ताओं की भी इसमें सहभागिता जरूरी है।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

पौष्टिकता से भरपूर: चंद्रशूर