जनपद झांसी में अन्तर्राष्ट्रीय विश्व योग दिवस कार्यक्रम में शामिल हुए मंत्री नंद गोपाल नंदी



 ‘‘जहां योग है, वहां निरोग है‘‘ भारत के प्राचीनतम विज्ञान को आज दुनिया ने भी अपना लिया है
 लखनऊ: 21 जून, 2022

योग भारतीय संस्कृति एवं परंपरा की एक अमूल्य देन है, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारतीय परंपरा एवं संस्कृति में छिपे इस अद्भुत दर्शन को न केवल वैश्विक रूप दिया अपितु जन-जन के जीवन के अभिन्न अंग के रूप में स्थापित करने में भी मदद की, इसी दिवस की महत्ता की सार्थकता को सिद्ध करने के लिए पूरे विश्व में योग दिवस का आयोजन किया जा रहा है। इसी क्रम में आज जनपद झांसी में भी योग दिवस को भव्य तरीके से मनाया गया। जनपद के विभिन्न भागों में योग कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। मुख्य कार्यक्रम मेजर ध्यान चंद स्टेडियम में आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में मंत्री औद्योगिक विकास नंद गोपाल गुप्ता नंदी की उपस्थित हुए।
           कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि ने दीप प्रज्जवलित कर किया। मुख्य अतिथि का स्वागत आतिथ्य परंपरा के अनुसार जिलाधिकारी ने पुष्प गुच्छ देकर किया। इस मौके पर बोलते हुए मंत्री औद्योगिक विकास नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने कहा कि आठवां अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस भारत की प्राचीनतम हमारे ऋषि-मुनियों द्वारा दिया गया एक विशेष उपहार है योग, आज आदरणीय प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में पूरी दुनिया में योग दिवस को जो मान्यता मिली है और हम लोगों ने बचपन से ही पड़ा कि स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क का निवास होता है निश्चित रूप से "करें योग रहे निरोग" हमारे ऋषि-मुनियों ने बताया था।
           आज यह जन जागरण का अभियान जैसा रूप ले चुका है और योग से कसरत करने से शरीर स्वस्थ होता है। योग करने से जो अंदर से ताकत मिलती है उससे हम कोई भी असंभव काम कर सकते हैं, उन्होंने कहा की मैं अपनी ओर से अपनी सरकार की ओर से सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से अपने देशवासियों को विशेष रूप से मैं झांसी मंडल के प्रभारी मंत्री के रूप में सभी निवासियों को योग दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनाएं देता हूं।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

आपकी लिखी पुस्तक बेस्टसेलर बने तो आपको भी सही निर्णय लेना होगा !

पौष्टिकता से भरपूर: चंद्रशूर