अभिनेत्री अनु कश्यप दो दक्षिण भारतीय फिल्मों में नज़र आएंगी

 


मुकेश खन्ना के सुपरहिट धारावाहिक 'शक्तिमान' में तिमिरा की भूमिका निभाने वाली अभिनेत्री अनु कश्यप दो दक्षिण भारतीय फिल्मों में नज़र आएंगी, साथ ही आगामी म्यूजिक एलबम के गीत 'फासले कम' से पुनः अभिनय में नई पारी की शुरुआत कर रही हैं। यह एलबम जल्द ही दर्शकों और श्रोताओं तक पहुंच जाएगा। इसके अलावा वह कुछ वेब सिरीज़ और कई एलबम में अपना जलवा दिखाएंगी।

अनु कश्यप अभिनय जगत का कोई नया चेहरा नहीं बल्कि जाना माना चेहरा है जिसका जुनून ही है बेहतर अभिनय करना।

लगभग सत्रह फिल्मों, कई धारावाहिकों और म्यूजिक वीडियो में वह अभिनय कर चुकी हैं। इनकी प्रसिद्ध धारावाहिक हैं 'शक्तिमान, द्रौपदी और ये कैसी उलझन'। 'नाच नाच यार मनवा नी' और 'ओ मेरे राजा' एलबम में अनु काम कर चुकी है। ओ मेरे राजा गीत देवानंद की फ़िल्म जानी मेरा नाम का ही रिमेक गीत है।

अनु कश्यप ने कई दिग्गज अभिनेताओं के साथ काम किया है जिनमें धर्मेंद्र, मिथुन चक्रवर्ती, शक्ति कपूर, जानी लीवर, मुश्ताक खान, अनिल धवन का नाम प्रमुख है। इन्होंने फ़िल्म 'यीशु पालन हार' नाम की फ़िल्म का निर्माण भी किया है।

अमिताभ बच्चन और माधुरी की तरह वह जीवन के अंतिम पड़ाव तक कार्य करते रहना चाहती हैं। हालांकि अनु कुछ वक्त के लिए विदेश चली गयी थी मगर अभिनय के प्रति प्रेम ने वापस इन्हें मायानगरी की ओर खींच लिया।

इनकी अभिनय में दूसरी पारी धमाकेदार होगी। इनके पर्दे पर अभिनय का जौहर दिखाने का इंतेज़ार दर्शकों को भी रहेगा। अनु को वीमेन ओरिएंटेड फिल्में करने की इच्छा है। हिन्दू देवियों की भूमिका करने की इनकी गहन आकांक्षा है। भविष्य में माँ कामाक्षी की भूमिका करना इनके जीवन का उद्देश्य है। हिन्दू देवियों की भूमिका करना इन्हें इसलिए पसंद है क्यूँकि वह शक्ति का प्रतीक होती हैं। ऐसी ही शक्तिशाली महिला का किरदार वह निभाना चाहती हैं। जैसे फ़िल्म 'मर्दानी' में रानी मुखर्जी, 'मॉम' में श्रीदेवी और हाल ही रिलीज फ़िल्म केजीएफ 2 में रवीना टंडन का किरदार। 

अभिनय इनका जुनून है व इनकी ऊर्जा का स्रोत है। अभिनय के समय इनका जोश और ऊर्जा देखकर फ़िल्म स्टार धर्मेंद्र ने इनकी सराहना की थी। मिथुन दा भी इनके अभिनय के प्रति प्रेम, लगन और इनकी ऊर्जा को देख इनकी तारीफ करने से खुद को रोक नहीं पाए थे।

फ़िल्म के साथ ही सामाजिक कार्यों में इनका योगदान रहता है। अनु एनजीओ से जुड़ी हैं और ह्यूमन राइट्स की आल महिला रिसर्च की अध्यक्ष है। महिला और बच्चों से जुड़े सभी कार्यों को देखती और उनका निराकरण और सहायता करती है। साथ ही एचआईवी पीड़ितों की सहायतार्थ कार्य करती हैं।

अनु कश्यप ने अभिनय को अपने जीवन का अंग माना है और आज भी शूटिंग के समय इनकी ऊर्जा देखने योग्य रहती है। अभिनय की कला इनमें पैदायशी ही है। फिर भी इन्होंने अभिनय में निखार लाने के लिए अभिनय की बारीकियों को सीखा है। गणेश नागपाल से एक्टिंग का कोर्स किया। फ़िल्म से कुछ वक्त का ब्रेक लेने के बाद भी इनकी अभिनय से दूरी नहीं रही टिकटोक वीडियो के माध्यम से अपनी कला का प्रदर्शन करती रही।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

आपकी लिखी पुस्तक बेस्टसेलर बने तो आपको भी सही निर्णय लेना होगा !