जल शक्ति मंत्री ने वर्षा कम होने की स्थिति में नहरों के संचालन एवं सिंचाई हेतु जल की उपलब्धता के सम्बन्ध में की समीक्षा बैठक




सूखे की सम्भावना को देखते हुए नहरों में पानी की उपलब्धता को सुनिश्चित कराते हुए अधिकतम डिस्चार्ज से नहरें चलाए जाने का दिया निर्देश

जल शक्ति मंत्री ने नहरों में सिल्ट की प्रवृति के दृष्टिगत दो मुख्य अभियंताओं की कमेटी गठित किए जाने के दिए निर्देश


लखनऊ: 27 जुलाई, 2022
उत्तर प्रदेश के जल शक्ति मंत्री श्री स्वतंत्र देव सिंह ने आज यहां उदयगंज स्थित सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग के मुख्यालय स्थित सभागार में वर्षा कम होने की स्थिति में नहरों के संचालन एवं सिंचाई हेतु जल की उपलब्धता के सम्बन्ध में विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की।


जल शक्ति मंत्री ने बैठक में विभागीय अधिकारियों को सूखे की सम्भावना को देखते हुए नहरों में पानी की उपलब्धता को सुनिश्चित कराते हुए अधिकतम डिस्चार्ज से नहरें चलाए जाने का निर्देश दिया, जिससे कृषकों को सिंचाई हेतु पानी की समस्या ना होने पाए। उन्होंने निर्देश दिया कि पूरी क्षमता से नहरों का संचालन सुनिश्चित कराते हुए टेल तक पानी की पहुंच सुनिश्चित करायें। जिससे किसानों को पर्याप्त मात्रा में पानी उपलब्ध हो सके। उन्होंने निर्देश दिया कि नहरों में सिल्ट की प्रवृति के दृष्टिगत दो मुख्य अभियंताओं की कमेटी गठित की जाए जिससे नहरों में सिल्ट की समस्या/अवरुद्ध नहरों की समस्या/नहरों की वास्तविक तथा प्राकलित लंबाई में पानी उपलब्ध रहे। कमेटी को इस संबंध में 25 दिनों के अंदर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए भी निर्देश दिये।
जल शक्ति मंत्री ने समीक्षा बैठक में सहभागी सिंचाई प्रबंधन के अंतर्गत जल उपभोक्ता समिति के गठन की प्रक्रिया पर विस्तृत विचार विमर्श किया तथा निर्देशित किया कि वर्तमान में प्रचलित प्रक्रिया को त्वरित गति से लागू किया जाए। बैठक में समस्त क्षेत्रीय मुख्य अभियंता के साथ उनके कार्यक्षेत्र में समस्याएं एवं उनके समयबद्ध समाधान हेतु विभिन्न विषयों पर भी चर्चा की गई। उन्होंने निर्देश दिया कि विभाग द्वारा कराए जा रहे कार्याे में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए, कार्यों की गुणवत्ता में किसी भी प्रकार का समझौता नहीं किया जाएगा।
बैठक में प्रमुख सचिव सिंचाई एवं जल संसाधन श्री अनिल गर्ग ने जल शक्ति मंत्री को आश्वस्त किया कि उनके द्वारा दिए गए निर्देशों का प्राथमिकता के आधार पर शत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित कराया जाएगा
बैठक में सिंचाई एवं जल संसाधन राज्यमंत्री श्री दिनेश खटीक एवं श्री रामकेश निषाद सहित प्रमुख अभियंता एवं विभागाध्यक्ष श्री ए०के० सिंह, प्रमुख अभियंता परियोजना श्री मुस्ताक अहमद, प्रमुख अभियंता यांत्रिक श्री देवेंद्र अग्रवाल, प्रमुख अभियंता परिकल्प एवं नियोजन श्री एन० सी० उपाध्याय सहित क्षेत्रीय मुख्य अभियंता उपस्थित थे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

आपकी लिखी पुस्तक बेस्टसेलर बने तो आपको भी सही निर्णय लेना होगा !

पौष्टिकता से भरपूर: चंद्रशूर