स्टेट बैंक के सहयोग से स्थापित ऑक्सिजन संयंत्र का मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्य नाथ जी द्वारा लोकार्पण तथा एंबुलेंस फ्लीट का फ़्लैग ऑफ



 

भारतीय स्टेट बैंक कॉर्पोरेट सामाजिक दायित्व के अंतर्गत समय समय पर समाज के लिए कल्याणकारी गतिविधियां करता रहता  है। इस क्रम में गोरखपुर स्थित गुरु श्री गोरक्षनाथ चिकित्सालय में 120 सिलिंडर की क्षमता वाले ऑक्सिजन संयंत्र की स्थापना हेतु  बैंक ने अपना सहयोग प्रदान किया है। जिसका लोकार्पण माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्य नाथ जी द्वारा स्टेट बैंक के अध्यक्ष श्री दिनेश खारा की उपस्थिति में मंगलवार दिनांक 12.07.2022  को किया गया। गोरखनाथ मंदिर प्रांगण में आयोजित कार्यक्रम में स्टेट बैंक ने मरीजों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार के अस्पतालों को छह एंबुलेंस एवं एक क्लीनिक ऑन व्हील्स – संजीवनी प्रदान की। जिनका फ्लैग  ऑफ माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा किया गया। क्लीनिक ऑन व्हील्स – संजीवनी में एक समर्पित चिकित्सा टीम है जो ग्रामीण और जनजातीय क्षेत्रों में प्राथमिक स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने में सहायक होगी।  

मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्य नाथ ने इस अवसर पर स्टेट बैंक की सराहना करते हुए कहा कि भारतीय स्‍टेट बैंक  200 वर्षों से अधिक समय से अपने व्यापक उत्पादों से देश के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। बैंक द्वारा प्रदेश मे तीन ऑक्सिजन प्लांट लगाने का निर्णय लिया गया जिसमे से  आज इस प्लांट का लोकार्पण किया गया है। गोरक्षनाथ चिकित्सालय  में ऑक्सिजन संयंत्र के लोकार्पण एवं 6 एंबुलेंस के फ्लैग ऑफ करते हुए मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्य नाथ ने कहा कि निरंतर व्यवसाय करना ही मुख्य उद्देश्य  नहीं होना चाहिए बल्कि समाज के आम नागरिकों के जीवन में परिवर्तन लाने, उन्हे रोजगार उपलब्ध करने केंद्र/ राज्य सरकार के कल्याणकारी  योजनाओं को प्रमुखता से लागू करते हुए समाज का विश्वास हासिल करने में स्टेट बैंक सफल रहा है। इसके लिए एसबीआई बधाई का पात्र है। ऑक्सिजन में आत्मनिर्भरता का लक्ष्य प्राप्त करने की  दिशा में प्रयास करते हुए प्रदेश में 526 ऑक्सिजन संयंत्र स्थापित किए गए। 

   

अपने उद्बोधन में स्टेट बैंक के अध्यक्ष श्री दिनेश खारा ने माननीय मुख्यमंत्री जी का आभार प्रकट करते हुए कहा कि कोरोना के दूसरे काल में यह बेहद उपयोगी हो गया था । एसबीआई समय के साथ साथ अपनी गतिविधियां बदल रहा है तथा समय के अनुसार ग्राहकों को उनकी इच्छानुसार सुविधाएँ उपलब्ध करा रहा है । 216 वर्षो से अपने क्षेत्र में शीर्ष पर बने रहने का कारण यह है कि हम, अपने ग्राहकों को हर संभव सेवाएँ उपलब्ध कराते हैं। उत्तर प्रदेश में 2000 से अधिक शाखाएँ हर तरह की  बैंकिंग सुविधा उपलब्ध कर रही हैं। हमने विभिन्न क्षेत्रों में 70000 करोड़ का ऋण उपलब्ध कराया है।  गोरखनाथ चिकित्‍सालय में लगाए गए ऑक्‍सीजन संयंत्र के बारे में जानकारी देते हुए श्री खारा ने बताया कि ‘’स्टेट बैंक अपने कॉरपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व के लिए प्रतिबद्ध है एवं भविष्य में इसी प्रकार अपना दायित्व निभाता रहेगा।  


इस अवसर पर भारतीय स्टेट बैंकलखनऊ मण्डल  के मुख्य महाप्रबंधक श्री अजय कुमार खन्ना ने मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्य नाथभारतीय स्टेट बैंक के अध्यक्ष श्री दिनेश खारा और उपस्थित गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया।   श्री खन्‍ना  ने अपने स्‍वागत उद्बोधन में कहा कि हर भारतीय का बैंक होने के नाते भारतीय स्‍टेट बैंक सदैव देश के दूरदराज़ इलाकों में स्थित अपनी शाखाओं के माध्‍यम से लोगों के वित्‍तीय समृद्धि प्रदान करने की दिशा में कार्यरत हैं। एक ओर हम उच्‍च तकनीक तो दूसरी ओर हम परम्‍परागत डिलीवरी चैनलों के माध्‍यम से गांव गांव तक बैंकिंग सेवाएं पहुंचा रहे हैं।

 

इस कार्यक्रम में एसबीआई प्रशासनिक कार्यालयगोरखपुर के डीजीएम श्री संजीव कुमार,सभी क्षेत्रीय प्रबंधक,प्रशासनिक कार्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों के अलावा गोरखनाथ चिकित्‍सालय के निदेशक डॉ मेजर जनरल (डॉ) अतुल बाजपेईडॉ वी के सिंह व अन्‍य अधिकारीगण उपस्थित रहे। 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

आपकी लिखी पुस्तक बेस्टसेलर बने तो आपको भी सही निर्णय लेना होगा !