डिजीटल इण्डिया प्रधानमंत्री के दूरदर्शी सोच का परिणाम - योगेन्द्र उपाध्याय





लखनऊः 16 जुलाई, 2022


उत्तर प्रदेश के उच्च शिक्षा, विज्ञान प्रौद्योगिकी, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री श्री योगेन्द्र उपाध्याय ने कहा है कि कामन सर्विस सेन्टर (सी0एस0सी0) आज पूरे देश में सरकार और जनता के मध्य सेतु का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मोदी और योगी का युग भारत के डिजिटलाइजेशन का स्वर्णिम युग है, इसके द्वारा जनता को, पारदर्शी, ईमानदार एवं सुलभ आवश्यक सेवाएं मिल रही हैं। उन्होंने कहा कि डिजिटलाइजेशन ने जन जीवन को काफी सरल बना दिया है।


श्री उपाध्याय आज लखनऊ के बटलर रोड स्थित श्री लाल बहादुर शास्त्री गन्ना किसान संस्थान के सभागार में सी0एस0सी0 दिवस पर आयोजित एक कार्यक्रम में उपस्थित जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने ग्रामीण स्तरीय उद्यमियों को सम्मानित करने के साथ ही दस हजार पेंशन सेवा केन्द्रों व डिजिटल साक्षरता को प्रोत्साहित करने एवं जागरूकता का प्रसार करने हेतु प्रचार वाहन को डिजिटली शुरू किया।

उल्लेखनीय है कि सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय भारत सरकार द्वारा डिजीटल इण्डिया के सपने को साकार करने एवं आम जनमानस में डिजिटल साक्षरता को बढ़ावा देने के उद्देश्य से सी0एस0सी0, ई-गवर्नेंस सर्विसेज इंण्डिया लि0 की स्थापना की गयी है। इसी संस्था एवं देश में संचालित कामन सर्विस सेन्टरों के माध्यम से 16 जुलाई को प्रतिवर्ष (कामन सर्विस सेन्टर) सी0एस0सी0 दिवस मनाया जाता है। वर्तमान में सी0एस0सी0 के माध्यम से आम जनता को कई सेवाएं उपलब्ध करायी जाती हैं, जिसमें प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना, ई-श्रम पंजीकरण, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, आयुष्मान भारत योजना, एन0पी0एस0, टेलीमेडिसिन, वित्तीय समादेशन, डिजिटल साक्षर, ई-स्वास्थ्य, जी0एस0टी0, टेली लॉ, कोरोना टीकाकरण का पंजीकरण, सीएससी ग्रामीण, ई-स्टोर आदि की जानकारी देते हुए जागरूक किया जाता है।


सी0एस0सी0 की इन्हीं सेवाओं की सरहाना करते हुए श्री उपाध्याय ने कहा कि सी0एस0सी0 देश सेवा में उल्लेखनीय कार्य कर रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि सभी नागरिकों द्वारा अपना कार्य एवं दायित्व का ईमानदारी व निष्ठापूर्वक निर्वहन ही वास्तविक देश सेवा है। उन्होंने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव वर्ष मनाया जा रहा है। इसमें विभिन्न सांस्कृतिक आयोजनोें द्वारा भी डिजीटल साक्षरता को प्रोत्साहित किया जाये। उन्होंने यह भी कहा कि आज भारत डिजीटलाजेशन में कई प्रमुख देश से आगे है। इसका पूरा श्रेय मा0 प्रधानमंत्री जी की दूरदर्शी सोच को जाता है। उ0प्र0 में भी हमारी सरकार मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ के कुशल नेतृत्व में डिजीटली जागरूकता को बढ़ावा दे रहा है।


कार्यक्रम में राज्यमंत्री ग्राम्य विकास श्रीमती विजयलक्ष्मी गौतम, सी0एस0सी0 राज्य प्रमुख श्री अतुल राय, डा0 मुकुल चतुर्वेदी सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

आपकी लिखी पुस्तक बेस्टसेलर बने तो आपको भी सही निर्णय लेना होगा !